जल्द अमीर बनने के चक्कर में यह लड़की करने लगी गंदा काम

इंदौर: अमीर बनने की चाह में लोग ऐसी गलती कर बैठते हैं, जिसके बाद उनके पास पछतावे के सिवाय कुछ नहीं रहता। ऐसी ही एक कहानी गरीब परिवार में पली बढ़ी लड़की ममता मसीह की है। मध्य प्रदेश के उज्जैन की रहने वाली ममता होनहार एक छात्रा थी। वह शानदार अंग्रेजी बोलती थी।

पढ़ाई पूरी करने के बाद ममता ने बड़े शहरों का रुख किया और काम की तलाश करने लगी। उसका सपना था वह जल्द से जल्द अमीर बन जाए। हर वक्त अपने सपने को पूरा करने की फिराक में रहा करती थी। नौकरी की तलाश करते करते उसे आखिरकार एक होटल में काम मिल गया। उसके बाद उसने कई होटलों में काम किया। फिर उसने एयरलाइंस इंड्रस्टी का रुख किया। जैसे-जैसे उसे बेहतर काम मिल रहा था वैसे ही उसकी कमाई भी बढ़ती जा रही थी। वह एक निजी एयरलाइंस के ग्राउंड स्टॉफ में काम रही थी। लेकिन अपनी शानदार अंग्रेजी और खूबसूरती के सहारे जल्द ही वो एयर होस्टेस बन गई।

स्पाइस जेट में कुछ महिनों तक एयर होस्टेस के तौर पर काम करने के बाद ममता ने सालभर के बाद ही उसने स्पाइस जेट की नौकरी छोड़ दी और गुडग़ांव के एक बड़े स्पा में काम करना शुरू कर दिया। जल्द अमीर बनने की चाह में ममता की एक दिन मुलाकात पश्चिमी उत्तर प्रदेश के एक कुख्यात गैंग के सदस्य विनय से हो गई। यहीं से ममता के जुर्म की कहानी शुरू हुई। इस शख्स ने ममता को अमीर बनने का ऐसा शॉर्टकट रास्ता दिखाया कि वह चाह कर भी यहां निकल नहीं सकती थी।

लिहाजा उसने उस गैंग के साथ काम करना शुरू कर दिया। इस गैंग ने एक नया काम शुरू किया था मिस्डकॉल के सहारे अमीर लोगों को फंसाने का। वो अमीरजादों को मिस्डकॉल देकर अपने जाल में फंसाती थी। फिर उन्हे ब्लैकमेल करके उनका अपहरण कर उसका गैंग मोटी रकम वसूल करता था। आखिरकार एक मामले में पकड़े जाने के बाद ममता ने खुलासा किया कि उसका गैंग ऐसे ही लड़कियों का माध्यम से लोगों को फंसाने का काम करता था। ममता अब जेल की सलाखों के पीछे पहुंच चुकी है। लेकिन उसे अपने साथियों से ही जान का खतरा बना हुआ है।