सम्मान: बिहार के लाल शहीद गरुड़ कमांडो जेपी निराला को मिलेगा "अशोक चक्र"

नई दिल्ली (25 जनवरी): बिहार के लाल शहीद गरुड़ कमांडो ज्योति प्रकाश निराला को "अशोक चक्र" देने की घोषणा की गई है। इस साल गणतंत्र दिवस के मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद पहली बार वायुसेना के शहीद गरुड़ कमांडो जेपी निराला को शांतिकाल के सबसे बड़े वीरता पुरस्कार अशोक चक्र से सम्मानित करेंगे।

भारतीय वायुसेना के इतिहास में ये पहला मौका है जब किसी गरुड़ कमांडो को अशोक चक्र से नवाजा जाएगा। गरुड़ कमांडो जेपी निराला तीन महीने पहले ही आतंकरोधी अभियान के तहत स्पेशल ड्यूटी पर कश्मीर के हाजिन में सेना के साथ तैनात हुए थे. श्रीनगर में इसी ऑपरेशन के दौरान सेना की तरफ से की गई कर्रवाई में आतंकी मसूद अजहर के भतीजे तल्हा रशीद को मारा गया था।

जेपी निराला 13 नवंबर 2017 को गरुड़ कमांडो के रूप में जम्मू कश्मीर के बांदीपुर में शहीद हुए थे। भारतीय वायुसेना के गरुड कमांडो शहीद जेपी निराला की बहादुरी के किस्से सुनकर हर भारतीय का सीना गर्व से चौड़ा हो रहा है. जेपी निराला तीन महीने पहले ही आतंकरोधी अभियान के तहत स्पेशल ड्यूटी पर बांडीपोर में सेना के साथ तैनात हुए थे। श्रीनगर में इसी दौरान सेना की तरफ से की गई कर्रवाई में आतंकी मसूद अजहर के भतीजे तल्हा रशीद मारा गया था। भारतीय सेना के इतिहास में ज्योति प्रकाश पहले एयरफोर्स अधिकारी होंगे जिन्हें अशोक चक्र मिलेगा।