कर्मचारियों को VRS देने की खबरों को एयर इंडिया ने किया खारिज

नई दिल्ली (18 जुलाई): देश की सार्वजनिक विमानन कंपनी एयर इंडिया अपने 40,000 एंप्लॉयीज में से एक तिहाई से ज्यादा को वॉलंटरी बाइआउट का प्रस्ताव देने की तैयारी में है। मीडिया में ऐसी खबरे आ रही थीं, जिसके बाद एयर इंडिया के CMD अश्विनी लोहानी ने वीआरएस की खबरों को खारिज कर दिया है।

कंपनी के सीएमडी अश्विनी लोहानी ने इस खबर को आधारहीन बताते हुए कहा, "वीआरएस का ऐसा कोई प्रस्ताव नहीं है।" लोहानी ने कहा कि इस बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं है।  

इस संबंध में एयर इंडिया ने एक बयान भी जारी किया। एयर इंडिया के स्पोक्सपर्सन ने कहा, ‘कंपनी के कुल 40 हजार कर्मचारियों में एक तिहाई के वीआरएस की खबर गलत है।’ उन्होंने कहा, ‘हकीकत में एयर इंडिया और उसकी सब्सिडियरीज में कुल 20 हजार कर्मचारी हैं।

इनमें से सिर्फ 11500 कर्मचारी एयर इंडिया के हैं। एयर इंडिया मैनेजमेंट ने अपने कर्मचारियों को वीआरएस की पेशकश नहीं की है।