चप्पल मारने वाले शिवसेना सांसद को मिला एयर होस्टेस का साथ


नई दिल्ली(27 मार्च): एयर इंडिया के कर्मचारी को चप्पल मारकर विवादों में घिर चुके शिवसेना सांसद रविंद्र गायकवाड़ के बचाव में खुद एयर इंडिया की एयर होस्टेस का बयान आया है।


- ताजा जानकारी के मुताबिक AI की एयर होस्टेस, जो मामले की चश्मदीद गवाह है, ने बताया कि शिवसेना सांसद ड्यूटी मैनेजर को उनके बुरे बर्ताव के कारण रोकने का प्रयास कर रहे थे। एयर होस्टेस ने आगे बताया कि सांसद का ड्यूटी मैनेजर को सीढ़ियों पर धकेलने का कोई इरादा नहीं था।


- चश्मदीद ने यह भी कहा कि क्रू मेंबर्स के प्रति गायकवाड़ का बर्ताव काफी विनम्र था। ऐसा बिलकुल नहीं लग रहा था कि वह हिंसक हो जाएंगे। वह केवल इसलिए प्लेन से नहीं उतर रहे थे क्योंकि वह एयरलाइंस के मैनेजमेंट ऑफिसर्स से बात करना चाहते थे ताकि वह उनसे उन इशूज पर बात कर सकें जिनके चलते उन्हें यात्रा में समस्या हुई। उन्हें जे-क्लास का बोर्डिंग पास इशू किया गया था और बदले में उन्हें इकनॉमी क्लास में बिठाया गया था क्योंकि उस रूट पर जो एयरक्राफ्ट था उसमें सभी इकनॉमी सीट्स ही थीं।


- एयर होस्टेस ने बताया कि इसी वजह से सांसद की ग्राउंड स्टाफ के साथ बहस हुई। इस पर जब उन्होंने सीनियर अधिकारियों से मिलने की मांग की तो ड्यूटी मैनेजर सुकुमार उनसे मिलने आए। वह भी ईमानदारी से अपनी ड्यूटी निभा रहे थे लेकिन उनके बातचीत करने के तरीके में कहीं कुछ गड़बड़ हो गई और शायद सांसद ने भी इसे गलत तरीके से ले लिया। उन दोनों की बातचीत बहस में बदल गई जिसके बाद नौबत मारपीट तक पहुंच गई।


- AI की कर्मचारी ने बताया कि इसके बाद सांसद ने अपनी चप्पल निकाल ली और वह सुकुमार को मारने वाले थे। साथ ही साथ वह उन्हें सीढ़ियों की तरफ ले जा रहे थे। एयर होस्टेस ने बताया कि उन्हें गायकवाड़ से डर नहीं लग रहा था क्योंकि वह सफर के दौरान उन्हें सिस्टर कहकर संबोधित कर चुके थे और वह बाकी सभी महिला कर्मचारियों के साथ सह्रदयता से पेश आ रहे थे। इसी वजह से एयर होस्टेस ने आगे बढ़कर सांसद को रोका ताकि वह कानून हाथ में न लें और वह उनकी बात मान भी गए। इसके बाद उन्होंने सुकुमार को छोड़ दिया।