News

वायुसेना की 84वीं वर्षगांठ आज, भारत की ताकत को देखखर कांपेंगे दुश्मन

नई दिल्ली(8 अक्टूबर): आज दुनिया की चौथी सबसे बड़ी भारतीय वायुसेना अपनी 84वीं वर्षगांठ मना रही है। लेकिन सभी की निगाहें देश में बने लड़ाकू विमान तेजस पर है। जो पहली बार फ्लाइ-पास्ट में हिस्सा ले रहा है।

- हवाओं में अठखेलिया खाते फौलादी जंगबाज के करतब देखकर पाकिस्तान पानी मांग रहा होगा। दुनिया की चौथी सबसे बड़ी वायुसेना जिसका लोहा पूरी दुनिया मानती है, हर मौके पर अपनी जांबाजी को साबित कर चुकी है। आसमान में दुश्मन के नापाक इरादों को खाक में मिलाने के लिए एयर फोर्स ने कमर कसी हुई है। 

- इस वर्षगांठ को यादगार बनाने के लिए हिंडन एयरबेस से ब्रिटि‍श रॉयल एयरफोर्स की रेड ऐरो एरोबेटिक टीम आसमान में अपना जलवा दिखा रही है। 

- वायुसेना के सबसे पुराने विमानों से लेकर दुनिया के सबसे आधुनिक फाइटर एयरक्राफ्ट सुखोई आसमान में अपनी ताकत का लोहा मनवा रहा है।  इस साल दुश्मन की नींद उड़ा देने वाला स्वदेशी लड़ाकू विमान तेजस भी फ्लाइ पास्ट में करतब दिखा रहा है।

- सुखोई , तेजस के अलावा मिराज, जगुआर और मिग लड़ाकू विमान भी आसमान में अपना करतब दिखा रहे हैं। दुनिया का सबसे बड़ा और शक्तिशाली ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट, सी-17 ग्लोबमास्टर और हेलीकॉप्टर की ताकत से दुनिया रूबरू हो रही है।  

- दुश्मन के खेमे में खलबली मचाने वाला सी-130 जे सुपर हरक्युलिस विमान भी हिंडन एयरबेस पर हिस्सा ले रहा है, इसे देखने के बाद हिंदुस्तान की सरज़मी पर नज़रे उठाने से पहले दुश्मन कई बार सोचेगा। सी-130 जे सुपर हरक्युलिस एयरक्राफ्ट ने लद्दाख के डीबीओ में चीन सीमा के करीब लैंडिग कर एक नया कीर्तिमान बनाया था।

 


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram .

Tags :

Top