शशिकला के शपथ पर सस्‍पेंस, राज्यपाल राव ले रहे कानूनी राय !

चेन्नई (7 फरवरी): जयललिता की बेहद करीबी रहीं अन्‍नाद्रमुक की जनरल सेक्रेट्री शशिकला के मुख्‍यमंत्री पद की शपथ ग्रहण को लेकर अनिश्चितता बरकरार है। राज्‍य की सत्‍ताधारी AIDMK ने उनको विधायक दल का नेता चुन लिया है लेकिन उनके आज या कल मुख्‍यमंत्री के रूप में शपथ लेने पर संशय बरकरार है।

 दरअसल गवर्नर सी विद्यासागर राव इस वक्‍त तमिलनाडु से बाहर मुंबई में हैं। फिलहाल उन्‍होंने तमिलनाडु के अपने सभी आगामी कार्यक्रम रद कर दिए हैं। सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक राज्यपाल राव 'जल्‍दबाजी' में शपथ ग्रहण कराने के खिलाफ हैं।

जानकारी के मुताबिक गवर्नर इस वक्‍त कानूनी विशेषज्ञों से यह राय ले रहे हैं कि क्‍या इस वक्‍त शशिकला को राज्‍य का मुख्‍यमंत्री बनाया जा सकता है क्‍योंकि भ्रष्‍टाचार के एक मामले में बहुत जल्‍दी कोर्ट का एक निर्णय आने वाला है। इसके अलावा आज तक न तो उन्‍होंने कोई चुनाव जीता है और राजनीतिक रूप से अनुभवी नहीं हैं।

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को संकेत दिए हैं कि वह शशिकला के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति के एक मामले में जल्द फैसला सुना सकता है। तमिलनाडु की दिवंगत मुख्यमंत्री जे जयललिता भी इस मामले में आरोपी थीं। शपथ लेने के बाद दोषसिद्धि होने पर शशिकला को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ सकता है।