पानी के अंदर हवा से बात करेगी भारत की पहली बुलेट ट्रेन!

नई दिल्ली(21 अप्रैल): मुंबई से अहमदाबाद के बीच चलने वाली देश की पहली बुलैट ट्रेन के जरिए यात्री समुद्र के अंदर यात्रा करने का रोमांच अनुभव कर सकेंगे। रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि मुंबई से अहमदाबाद के बीच 508 किमी लंबे रेल कॉरिडोर में समुद्र के अंदर करीब 21 किमी की सुरंग बनाई गई है।

जेआईसीए की विस्तृत परियोजना रपट के अनुसार इस रेल कॉरिडोर के ज्यादातर हिस्से को ऊंचे ट्रैक पर बनाने का प्रस्ताव है, लेकिन ठाणे के बाद विरार की ओर जाने पर यह कॉरिडोर समुद्र के अंदर बनी सुरंग से गुजरेगा। इस परियोजना की कुल अनुमानित लागत 97,636 करोड़ रुपये है।

परियोजना का करीब 81 प्रतिशत वित्तपोषण जापान की ओर से उपलब्ध कराए गए कर्ज से होगा। अधिकारी ने बताया कि यह कर्ज 0.1 पर्सेंट सालाना ब्याज दर से 50 वर्षों के लिए है, जिसकी कर्ज स्थगन की अवधि 15 साल होगी। 

जापान के साथ कर्ज समझौते के मुताबिक रेल के डिब्बे, इंजन और सिग्नल एवं बिजली प्रणाली जैसे अन्य उपकरणों को जापान से आयात किया जाएगा। अधिकारी ने बताया कि जापान के साथ यह ऋण समझौता इस साल के अंत तक पूरा होने की उम्मीद है, जबकि इस रेल कॉरिडोर का निर्माण 2018 के अंत तक शुरु हो जाएगा।