Blog single photo

VIDEO: ताज नगरी में लुटेरे बंदर

आगरा में एक बैंक में पैसे जमा करने जा रहे ज्वैलर्स से बंदरों ने नोटों से भरा बैग लूट लिया। घटना को अंजाम दिए जाने के बाद जब काफी मेहनत की गई तो बंदरों ने केवल सौ-सौ की 6 नोटों की गड्डियां ही फेंकी जबकि बाकी नोट लेकर भाग गए।

आगरा (30 मई): आगरा में एक बैंक में पैसे जमा करने जा रहे ज्वैलर्स से बंदरों ने नोटों से भरा बैग लूट लिया। घटना को अंजाम दिए जाने के बाद जब काफी मेहनत की गई तो बंदरों ने केवल सौ-सौ की 6 नोटों की गड्डियां ही फेंकी जबकि बाकी नोट लेकर भाग गए। दरअसल नाई की मंडी के मोहल्ला निवासी विजय बंसल सर्राफ का काम करते हैं। वह अपनी बेटी नैंसी के साथ धाकरान चौराहा स्थित इंडियन ओवरसीज बैंक में दो लाख रुपए जमा करने जा रहे थे। तभी 5-6 बंदरों ने हमला किया और रूपये से भरा बेग लेकर भाग गए।नाथ कॉम्पलेक्स के फर्स्ट फ्लोर पर बैंक की सीढ़ी चढ़ते समय वहां तीन-चार बंदर मौजूद थे। बंदरों ने घुड़की देते हुए नैंसी के हाथ से झपट्टा मारकर बैग छीन लिया। इस हमले से नैंसी बुरी तरह घबरा गई। वह और उसके पिता चीखने लगे। शोर सुनकर बैंक के गार्ड वहां आ गए, लेकिन तब तक बंदरों का झुंड चौथी मंजिल पर पहुंच गया। बंदरों को खाने के सामान का लालच देने पर बंदरों ने सौ-सौ के नोटों की छह गड्डियां निकालकर फेंक दीं।इसके बाद पीड़ित ने पुलिस को बुलाया। पुलिस के आने के बाद बंदरों ने लुका-छिपी शुरू कर दी और पुलिस कर्मियों को दो हजार के नोट की गड्डियां दिखाकर पूरी इमारत में दौड़ाते रहे। पुलिस और व्यापारी दौड़ते-दौड़ते बुरी तरह थक गए। लेकिन तमाम लालच देने के बावजूद बंदरों ने नोटों से भरा बैग नहीं लौटाया और एक लाख चालीस हजार रुपये से भरा बैग लेकर फरार हो गए। लुटा व्यापारी सिर धुनता हुआ पूरे नाई की मंडी क्षेत्र में अपना बैग तलाशता रहा। जब वह बंदरों को नहीं पकड़ सका तो अपनी बेटी के साथ घर लौट आया।देखिए न्यूज 24 की ये रिपोर्ट...

Tags :

NEXT STORY
Top