भाजपा के चुनाव आयोग में शिकायत पर राहुल गांधी ने कहा- प्रिय भाजपा, डरो मत

नई दिल्ली ( 18 जनवरी ): कांग्रेस का चुनाव चिह्न जब्त करने की मांग करते हुए भाजपा के चुनाव आयोग का रूख करने पर आज राहुल गांधी ने तंज कसते हुए ट्वीट किया कि प्रिय भाजपा, डरो मत।


दरअसल, भाजपा ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस उपाध्यक्ष ने एक भाषण के दौरान पार्टी के चिन्ह हाथ को धार्मिक शख्सियतों से जोड़ कर चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन किया है। कुछ दिन पहले केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और मुख्तार अब्बास नकवी की सदस्यता वाले एक प्रतिनिधिमंडल ने चुनाव आयोग के पास राहुल के खिलाफ एक शिकायत दर्ज कराई थी और चुनाव चिन्ह जब्त करने की मांग की थी। इसी के मद्देनजर कांग्रेस उपाध्यक्ष ने आज यह ट्वीट किया।


नकवी ने आयोग के पास शिकायत दर्ज कराने के बाद संवाददाताओं से कहा था कि कांग्रेस के नये महान नेता ने अपने बयान के जरिए चुनाव को साम्प्रदायिक रंग देने की कोशिश की। भाजपा नेता ने कहा, अपने बयान में उन्होंने कांग्रेस के हाथ को विभिन्न धार्मिक शख्सियतों से जोड़ कर दिखाया। यह भ्रष्ट व्यवहार का एक स्पष्ट मामला है। कांग्रेस और इसके नेता, दोनों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।


भाजपा ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया है कि इस महीने की शुरूआत में कांग्रेस के जन वेदना सम्मेलन में राहुल ने अपनी पार्टी के चुनाव चिन्ह हाथ को धर्म से जोड़ते हुए टिप्पणी की। यह जन प्रतिनिधित्व अधिनियम, 1951 के प्रावधानों, आचार संहिता और उच्चतम न्यायालय के दिशानिर्देशों का उल्लंघन है।