बाढ़ प्रभावित केरल में बढ़ रही डेंगू जैसी खतरनाक बीमारियां : स्वास्थ्य मंत्रालय

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (1 सितंबर): केरल में आई विनाशकारी बाढ़ का पानी उतरने के बाद भी इस बाढ़ से हो रहे दुष्परिणाम से केरल के लोग निकल नही पा रहे है।  गुरुवार को  स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने मीडीया को बताया की बाढ़ प्रभावित केरल में लेप्टोस्पायरोसिस, तीव्र दस्त और डेंगू के मामले बढ़ रहे हैं, और केंद्र इस स्थिति की बारीकी से जांच कर रहा है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जे पी नड्डा ने अन्य मंत्रालय के अधिकारियों के साथ बाढ़ राहत उपायों की समीक्षा की और कहा कि केंद्र राज्य के साथ पूरा सहयोग कर रहा है। मंत्रालय के मुताबिक, केंद्र  शुक्रवार तक केरल में 30 विशेषज्ञ डॉक्टर, 20 सामान्य कर्तव्य चिकित्सा अधिकारी और 40 मलयालम भाषी नर्स भेजेगा। 

जे पी नड्डा का कहना है की इसके अलावा, केरल भेजने के लिए 12 सार्वजनिक स्वास्थ्य टीमों का भी गठन किया है जिसमें से प्रत्येक में एक सार्वजनिक स्वास्थ्य विशेषज्ञ, एक माइक्रोबायोलॉजिस्ट और एक एंटोमोलॉजिस्ट शामिल है, जो केरल के विभिन्न स्वास्थ्य विभागों में बिमारी के उपायों में राज्य की सहायता के लिए तैनात है। 

केंद्र ने अभी तक 73 एमटी आवश्यक आपातकालीन दवाओं की आपूर्ति की है। मंत्रालय ने मीडीया के बताया है की, केरल से प्राप्त अतिरिक्त अनुरोध के अनुसार, 120 टन वजन वाले आवश्यक दवाओं और उपभोग्य सामग्रियों के 58 वस्तु और 40 अल्ट्रा लो वॉल्यूम (यूएलवी) कोहरे मशीनों को केरल में भेजा जा रहा है।"