क्वार्टर फाइनल में पहुंचा भारत, कोच बोले-''असली विश्व कप अब शुरू हुआ है, जय हिंद''

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (9 दिसंबर): भारत ने हॉकी विश्वकप के पूल सी के आखिरी मुकाबले में कनाडा को 5-1 के अंतर से मात देकर धमाकेदार अंदाज में क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया है। टीम इंडिया पूल में दो मैचों में जीत और बेल्जियम के सात ड्रॉ खेलकर पहले स्थान पर रही। गोल अंतर ने भारत की सीधे क्वार्टर फाइनल में एंट्री दिलवाई।

जीत के बाद भारतीय टीम के कोच ने हरेंद्र ने कहा, 'जो मेरे कमरे में गए होंगे, वे जानते हैं कि मैंने पहले ही अपने कमरे में लिख दिया है कि कौन क्वार्टरफाइनल में खेलेगा और कौन सेमीफाइनल में। मेरे लिए चार देशों का टूर्नामेंट खत्म हुआ है और विश्व कप अब शुरू हुआ है।' उन्होंने कहा, 'क्वार्टरफाइनल से आप पदक की दौड़ में होते हैं। हमारे लिए असली टूर्नामेंट अगले मैच से शुरू होगा, जय हिंद।'

कोच हरेंद्र सिंह ने कहा कि भारतीय टीम के खिलाड़ी शुरूआती दो क्वार्टर में गोल करने की कोशिश में बॉल को लेकर दौड़ रहे थे। उनहेांने कहा, 'हम फाइनल पास से चूक रहे थे, हम गोल के लिए दौड़ रहे थे। हमें इंतजार करना चाहिए था, बॉल की तरफ दौड़ नहीं सकते। मुझे लगता है कि पहले हाफ में हमने ज्यादा ही दौड़ लगाई। 

उन्होंने कहा, 'हम ज्यादा ही तेजी में थे। हमें इससे बचना होगा।' हालांकि वह इस बात से निराश थे कि भारतीय टीम कनाडा के खिलाफ एक गोल खा बैठी। उन्होंने कहा, 'हम क्लीन-शीट रखने में असफल रहे और मुझे इससे बुरा लग रहा है।' हरेंद्र सिंह ने कहा, 'गोल गंवाकर आप लय प्रतिद्वंद्वी को दे देते हो। क्लीन-शीट से प्रतिद्वंद्वी पर दबाव बनता है।'  

भारतीय टीम ने पहले क्वार्टर में 1-0 की बढ़त बना ली है। टीम इंडिया के लिए पहला गोल 12वें मिनट में हरमनप्रीत सिंह ने किया। दूसरे क्वार्टर में कोई भी टीम गोल नहीं कर सकी। ऐसे में हाफ टाइम तक भारत 1-0 से आगे था। लेकिन तीसरे क्वार्टर में कनाडा ने गोल कर  मैच में 1-1 से बराबरी कर ली। तीसरे क्वार्टर के बाद मुकाबला 1-1 की बराबरी पर  है।

चौथे क्वार्टर की शुरुआत में भारत ने जल्दी जल्दी दो गोल कर 3-1 की बढ़त बना ली। भारत के लिए दूसरा गोल कंजुम और तीसरा ललित उपाध्याय ने किया। इसके बाद अमित रोहिदास ने पेनल्टी कॉर्नर को गोल में तब्दील कर 4-1 से बढ़त बना ली। इसके बाद ललित उपाध्याय ने 57वें मिनट में गोल कर स्कोर को 5-1 कर दिया।