'तालिबान को भारत के खिलाफ इस्तेमाल करेगा पाकिस्तान'

नई दिल्ली(5 अप्रैल): अमेरिका के पूर्व डिप्लोमैट ने कहा है कि पाकिस्तान तालिबान को भारत के खिलाफ इस्तेमाल करेगा।  


- पाकिस्तान-अफगानिस्तान मामलों के अमेरिका के पूर्व स्पेशल रिप्रेजेंटेटिव रिचर्ड ओल्सन ने मंगलवार को एक थिंक टैंक स्टिमसन इंस्टीट्यूट में ये बात कही।


- ओल्सन ने कहा, "मुझे यकीन है कि पाकिस्तान कभी भी तालिबान को खत्म नहीं करेगा, क्योंकि वह जानता है कि इसका इस्तेमाल भारत के खिलाफ किया जा सकता है।"


- ओल्सन ने कहा कि ओबामा एडमिनिस्ट्रेशन के दौरान सीधे बातचीत में कोई झिझक नहीं थी। यहां तक कि उस वक्त अमेरिका के कुछ मददगारों ने एक्शन भी लिया, जिसका कोई नतीजा नहीं निकला।


- "इसलिए मुझे लगता है कि हमें यह हकीकत मान लेनी चाहिए कि पाकिस्तान तालिबान को मदद जारी रखने वाला है और हमें इसके लिए जो भी बेस्ट हो सकता है, करना चाहिए।"


- ओल्सन ने कहा, "यह सीधे तौर पर भारत से जुड़ा मामला है। पाकिस्तान को लेकर अमेरिका की कोई भी पॉलिसी इसे देखते हुए ही तय होनी चाहिए।"


- "मेरा मानना है कि पाकिस्तान तालिबान को अपने खास मददगार के तौर पर देख रहा है। लेकिन मुझे नहीं लगता कि अमेरिका अपनी स्ट्रैटजी में इसे लेकर कोई बदलाव करेगा।"


- उन्होंने कहा, "अमेरिका के भारी दबाव और काफी समझाने के बावजूद पाकिस्तान ने अफगानिस्तान के खिलाफ तालिबान के इस्तेमाल की अपनी पॉलिसी में 

बदलाव नहीं किया है।"



- ओल्सन ने ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन को पाकिस्तान और भारत के बीच बातचीत या कश्मीर मसले को हल करने में मीडिएटर न बनने की हिदायत दी।