किसानों की कर्ज माफी के लिए पैसे की व्यवस्था राज्य स्वयं करें: जेटली

नई दिल्ली(12 जून): वित्त मंत्री अरुण जेटली ने किसानों की कर्जमाफी पर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि अगर राज्य चाहें तो अपने संसाधनों से बजट की व्यवस्था कर किसानों के कर्ज माफ कर सकते हैं।

-  वहीं दूसरी ओर महाराष्ट्र में सोमवार को किसानों के आंदोलन से पहले ही सरकार ने कर्जमाफी का फैसला ले लिया। इस फैसले के तहत छोटे किसानों का पूरी तरह कर्ज माफ होगा जबकि बड़े किसानों की सशर्त कर्जमाफी की जाएगी। वहीं दूसरी ओर नाराज चल रहे किसान और दुग्ध व्यापारियों को खुश करने के लिए सरकार ने दूध के दाम बढ़ाने का फैसला लिया है। 

- कर्जमाफी पर जानकारी देते हुए महाराष्ट्र के राजस्व मंत्री चंद्रकांत पाटिल ने बताया कि कुछ शर्तों के साथ किसानों के कर्जमाफी को कैबिनेट ने मंजूरी दी है। इन शर्तों को तय करने के लिए एक कमेटी का गठन किया जाएगा। कर्जमाफी की घोषणा के बाद छोटे किसानों को नए लोन लेने की छूट रहेगी और उनका नाम ब्लैक लिस्ट से हटा दिया जाएगा।इस तरह महाराष्ट्र में यह अब तक की सबसे बड़ी कर्ज माफी होगी।