क्या आधार राइट टू प्राइवेसी के अधिकार का उल्लंघन करता है, 2 दिन में पूरी होगी सुनवाई

दिल्ली (12 जुलाई): आधार के खिलाफ दायर याचिकाओं पर आज से सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों की संविधान पीठ दो दिन सुनवाई करेगी। कोर्ट ने ऐसा फैसला तब लिया जब कहा गया कि आधार राइट टू प्राइवेसी के अधिकार का उल्लंघन करता है।  

 

आज कोर्ट में चीफ जस्टिस जे एस खेहर ने केंद्र और याचिकाकर्ता के आग्रह पर पांच जजों की बेंच में सुनवाई को मंजूरी दी। सीजेआई ने कहा कि दो दिनों में ही बहस पूरी हो जाएगी इसलिए सारे पक्ष अपनी तैयारी कर लें।


इससे पहले सुप्रीम कोर्ट की तीन जजों की बेंच ने कहा था कि आधार को लेकर निजता के हनन समेत जो मुद्दे आ रहे रहे हैं, उनका हल 5 जजों की संविधान पीठ ही कर सकती है। कोर्ट ने याचिकाकर्ता और केंद्र को कहा कि वो मामले को लेकर चीफ जस्टिस के पास जाएं और संविधान पीठ के गठन की गुहार लगाएं।