अपने अंदर के कलाकार को जिंदा रखना बेहद जरूरी: नवाजुद्दीन

नई दिल्ली ( 22 जनवरी ): बॉलीवुड के पॉवर पैक एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी का कहना है कि 'हरामखोर' जैसी फिल्मों ने उनके अंदर के कलाकार को जिंदा रखा हैं।

नवाजुद्दीन ने एक बातचीत के दौरान कहा कि मेरे लिए अपने अंदर के कलाकार को जिंदा रखना बेहद जरूरी है। यह आपसे जुदा नहीं होना चाहिए। कभी-कभी ग्लैमर की चकाचौंध में इसकी उपेक्षा कर दी जाती है। हरामखोर' जैसी फिल्मों के जरिए मैं अपने अंदर के कलाकार को जिंदा रखता हूं।

42 साल के नवाजुद्दीन बतौर एक्टर व्यवसायिक और कला फिल्मों के बीच कोई फर्क नहीं करते हैं। फिल्म 'रमन राघव 2.0' के अभिनेता कहते हैं कि वह बॉक्स ऑफिस पर फिल्म की कमाई और सफलता के बारे में चिंता नहीं करते हैं और अपने अभिनय पर ध्यान केंद्रित करते हैं।

शाहरुख खान की फिल्म 'रईस' में भी नवाजुद्दीन नजर आएंगे। इसमें वह सख्त मिजाज पुलिसकर्मी की भूमिका निभा रहे हैं। राहुल ढोलकिया निर्देशित 'रईस' 25 जनवरी को रिलीज हो रही है।