अब सरकार के हाथ में होगा आपके AC का रिमोर्ट !

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली ( 24 जून ): अब आपके AC का रिमोट सरकार के हाथ में होगा। मिल रही जानकारी के मुताबिक सरकार बिजली बचाने के लिए AC का डिफॉल्ट तापमान 24 डिग्री सेल्सियस निर्धारित कर सकती है। बताया जा रहा है कि इस सिलसिले में सरकार जल्द ही AC निर्माता कंपनियों के इस सिलसिले में दिशा निर्देश जारी कर सकती है। केंद्रीय उर्जा मंत्री आर के सिंह के मुताबिक सरकार कुछ महीनों में AC के डि‍फॉल्‍ट तापमान को 24 डि‍ग्री पर सेट करने के आदेश दे सकती है। साथ ही उन्‍‍‍‍‍‍‍‍होंने कहा कि इस सिलसिले में उनकी AC बनाने वाली कंपनि‍यों के साथ एक मीटिंग भी हो चुकी है।

साथ ही आरके सिंह ने बताया जब AC का तापमान 18 डिग्री की तुलना में 24 डिग्री सेल्सियस पर सेट किया जाएगा, तो 36 फीसदी तक बिजली की बचत होगी। जो स्वास्थ्य और बजट दोनों के लिए अच्छा है। AC मैन्युफैक्चरर्स इस कदम से खुश हैं। AC के लिए डिफॉल्ट तापमान सेटिंग 24 डिग्री सेल्सियस निर्धारित की जाएगी।उन्‍होंने आगे कहा कि एक इंसान के शरीर का सामान्य तापमान 36 से 37 डि‍ग्री के करीब होता है। लेकि‍न ज्‍यादातर होटल और ऑफि‍स में तापमान को 18 से 21 डि‍ग्री के बीच रखा जाता है। इसकी वजह से बिजली की खपत भी बढ़ती है, साथ ही स्‍वास्‍थ्‍य के लि‍ए भी अच्‍छा नहीं है। होटल्‍स में तापमान कम रखने की वजह से लोगों को गर्म कपड़े पहनने पड़ते हैं और कंबल का प्रयोग करना पड़ता है। यह सि‍र्फ और सि‍र्फ बि‍जली की बर्बादी है। उन्‍होंने यह भी कहा कि जापान समेत कई देशों में AC का तापमान 28 डि‍ग्री पर मेंटेन कि‍या गया है। इसे देखते हुए ऊर्जा दक्षता ब्यूरो (बीईई) ने एक अध्ययन किया और इसके बाद यह सि‍फरि‍श की गई है कि AC के तापमान को 24 डि‍ग्री सेल्‍सि‍यस पर डि‍फॉल्‍ट सेट कर दि‍या जाए। इससे बि‍जली की बड़े पैमाने पर बचत होगी। ऊर्जा मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि ऐसा करने से सि‍र्फ एक साल में 20 अरब यूनि‍ट बि‍जली की बचत हो सकेगी। वहीं, एक AC कंपनी की ओर से भी कहा गया है कि‍ यह एकदम सही निर्णय है, जो कि सही दि‍शा में होगा।