रेल यात्रियों के लिए खुशखबरी, अब ट्रेन में नहीं मिलेंगे गंदे और बदबूदार कंबल

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (26 जुलाई): रेल यात्रियों के लिए अच्छी खबर है। लगातार मिल रही शिकायत के बाद रेलवे ने ट्रेन के एसी कोच में सफर करने वाले यात्रियों को दिए जाने वाले कंबल को महीने में दो बार धुलवाने का फैसला किया है। रेलवे के इस ऐलान के बाद उम्मीद है कि एसी कोच में सफर करने वाले यात्रियों को गंदे और बदबूदार कंबल नहीं मिलेगा। इसके साथ ही अब ट्रेन में ज्यादा पुराने कंबल भी यात्रियों को नहीं मिलेंगे। मौजूदा समय में कंबलों को दो महीने में एक बार धोने का नियम है।रेलवे ने कंबलों की धुलाई की संख्या में वृद्धि के साथ कंबल को मौजूदा चार सालों तक उपयोग करने का नियम को बदलकर दो साल कर दिया है। इससे कंबलों की कीमत लगभग दोगुनी होने की उम्मीद है। संशोधित निर्देशों के मुताबिक, एसी यात्रियों के नए कंबलों में ऊन और नायलॉन का मिश्रण होगा, जिसके चलते कंबल की कीमत बढ़ने की भी उम्मीद है।देश भर में लागू होने वाले इस योजना से जुड़े रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, 'वर्तमान में उपयोग होने वाले भारी ऊनी कंबल की कीमत 400 रुपये है। कपड़े में बदलाव के बाद अब नई कीमत जल्द ही तय की जाएगी.'कंबल की कीमत चूंकि पिछले 10 सालों में संशोधित नहीं की गई है, इसलिए बदले गए नियम के बाद अब इसकी लागत अधिक होने की उम्मीद है। रेलवे को देश भर में अपने एसी यात्रियों के लिए रोजाना 3.90 लाख कंबलों की जरूरत होती है।