भारत के सख्त कदमों से डरा पाकिस्तान, कहा- युद्ध कोई हल नहीं

नई दिल्ली (26 सितंबर): उरी हमले के बाद भारत के सख्त तेवर को देखते हुए पाकिस्तान नरम पड़ता दिखाई दे रहा है। भारत में पाकिस्तान के हाई कमिश्नर अब्दुल बासित का कहना है, ''जंग कोई हल नहीं है। कश्मीरियों को फ्यूचर चुनने का मौका दो। अगर वो भारत में खुश हैं तो उन्हें वहीं रहने दो।''

- कोलकाता के अखबार 'टेलीग्राफ' को दिए इंटरव्यू में उरी आतंकी हमले के बारे में बासित ने कहा, ''मैं बताना चाहता हूं कि पाकिस्तान का इस हमले से कोई लेना-देना नहीं है।'' - भारत की ओर से पाकिस्तान को आतंकवादी मुल्क कहे जाने पर बासित ने कहा- ‘वह महज जुमलेबाजी है। हम भी ऐसे शब्दों का इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन उससे कोई मकसद हल नहीं होता। दो देशों के रिश्ते जुमलेबाजी से नहीं चलते।''

आग उगलते बयानों से तय नहीं होती पॉलिसी - पाकिस्तान हाफिज सईद और सैयद सलाउद्दीन को भारत के खिलाफ जहर उगलने की इजाजत क्यों देता है? इस पर बासित ने कहा, ''ऐसी आवाजें भारत में भी उठती हैं, लेकिन पाकिस्तान या भारत की पॉलिसी लोगों के आग उगलते भाषणों से नहीं तय होतीं।''

उरी का बदला लिए जाने पर क्या कहा? - भारत ने उरी हमले का बदला ले लिया है। ऐसी खबर सोशल मीडिया पर हैं कि इंडियन आर्मी ने सीमा पार कर आतंकी कैम्प्स को तबाह किया है। इस पर बासित ने कहा, ''इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। पाकिस्तान अपनी हिफाजत करने में काबिल है। मुझे नहीं लगता कि चीजें इस हद तक बढ़ेंगी।’’