आजादी के 3 साल के अंदर हुई ये 5 बड़ी घटना, भारत हो हुआ काफी नुकसान

नई दिल्ली (9 अगस्त): देश 15 अगस्त को आजादी की 70वीं वर्षगांठ मनाने जा रहा है। लेकिन आजादी के तीन साल के अंदर ही देश को कुछ ऐसे घटनाक्रम से जूझना पड़ा, जिससे उबरने में काफी समय लगा।

15 अगस्त 1947 को हम अंग्रेजों की ग़ुलामी से तो आजाद हो गए, लेकिन आने वाले समय में हमें इसकी बहुत बड़ी कीमत भी चुकानी पड़ी।

तीन साल के अंदर हुए ये बड़े राजनैतिक घटनाक्रम...

1: 15 अगस्त 1947 भारत अंग्रेजों की ग़ुलामी से आज़ाद हुआ, लेकिन आज़ादी के साथ देश को विभाजन का दंश भी झेलना पड़ा। अलग देश के रूप में पाकिस्तान का जन्म हुआ और पंजाब और बंगाल में भीषण सांप्रदायिक दंगे हुए। 2: 22 अक्टूबर 1947 पाकिस्तान से आए क़बायलियों का कश्मीर पर हमला, जिसमें भारत को जान और माल दोनों का काफी बड़ा नुकसान हुआ। इसके बाद 1949 पाकिस्तान के साथ युद्धविराम घोषित हुआ, जिसमें कश्मीर का 2 तिहाई भाग भारत में मिला था और तीसरा भाग पर पाकिस्तान ने कब्जा कर लिया था। 3: 26 अक्टूबर 1947 कश्मीर के महाराजा हरिसिंह ने कश्मीर के भारत में विलय संबंधी पत्र पर दस्तख़त किए। 4: 30 जनवरी 1948 शाम 5.03 बजे दिल्ली के बिड़ला हाउस में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की गोली मारकर हत्या। 5: वर्ष 1950 में भारत के प्रथम उप-प्रधानमंत्री और गृहमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल का निधन।