नीट के तर्ज पर आयुष मंत्रालय भी करेगा अपना कॉमन इंटरेंस टेस्ट

नई दिल्ली(9 जून): नीट यानी नेशनल एलीजीबीलीटी कम इंटरेंस टेस्ट देश भर के मेडिकल कॉलेज में दाखिले के लिए कराये जाने वाला कॉमन इंटरेंस टेस्ट के तर्ज पर अब आय़ुष मंत्रालय भी अपने सभी पाठ्यक्रमों के लिए एक कॉमन प्रवेश परिक्षा का आयोजन करेगा।

- मौजूदा समय में देश भर में नैचुरोपैथी  से लेकर होम्योपैथी पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए अलग अलग संस्थायें और राज्य सरकारें अपने अपने स्तर पर अगल अलग प्रवेश परीक्षा आयोजित करती थी। पर आयुष मंत्रालय के देश के सभी संस्थानों और राज्य सरकारो से अपील की है की सभी संस्थायें आयुष मंत्रालय के बैनर तले आयोजित होने वाली कॉमन इंटरेंस टेस्ट के माध्यम से ही इन पाठ्यक्रमों में दाखिला दें।

-अगले सत्र 2018 से ये नई व्यव्स्था लागू हो जायेगी। जिसके बाद बच्चों को नीट के तर्ज पर इन पाठ्यक्रमों के दाखिले के लिए अलग अलग नहीं बल्की एक ही टेस्ट के मेरिट के आधार पर दाखिला मिलेगा।

- गौरतलब है की 2014 में मोदी सरकार आने के बाद स्वास्थय और परिवार कल्याण मंत्रायण में  एलोपैथी को छोड़ बाकि के विधा जैसे होम्योपैथी, नैच्युरोपैथी, सिद्धा और आयुर्वेदिक को जोड़कर एक नया मंत्रालय आयुष का गठन किया गया था।