कपिल मिश्रा के बाद आसिम खान ने केजरीवाल पर लगाया 5 करोड़ मांगने का आरोप

नई दिल्ली ( 8 अप्रैल ): कपिल मिश्रा के आरोपों से जूझ रहे अरविंद केजरीवाल की मुश्किल और बढ़ गई है। केजरीवाल सरकार में मंत्री रहे आसिम अहमद खान ने भी अरविंद केजरीवाल पर पांच करोड़ रूपए मांगने का आरोप लगाया है। आसिम का आरोप है कि केबल नेटवर्क की डील के लिए उनसे खुद केजरीवाल ने पांच करोड़ रूपए मांगे। रूपए नहीं दिए तो भ्रष्टाचार के आरोप लगाकर उन्हें मंत्रिमंडल से बाहर कर दिया गया।


केजरीवाल पर पांच करोड़ रूपए मांगने का गंभीर आरोप आसिम अहमद खान ने लगाया है। केजरीवाल सरकार में मंत्री रह चुके हैं, लेकिन दो साल पहले भ्रष्टाचार के आरोप लगने के बाद केजरीवाल ने इन्हें मंत्रिमंडल ने निकाल दिया था, अब आसिम सीधे केजरीवाल पर उनसे पांच करोड़ रूपए मांगने का आरोप लगा रहे हैं।


पूर्व मंत्री आसिम अहमद खान ने कहा कि पांच करोड़ रूपए तो मुझसे भी मांगे गए थे और ये बात मैं आज नहीं कह रहा तीन महीने पहले सारी मीडिया को बतायी थी ये बात कि पांच करोड़ रूपए केजरीवाल जी ने खुद मुझसे मांगे थे।


आसिम का आरोप है कि मंत्री बनते ही उनके ऊपर पांच करोड़ रूपए देने का दबाव डाला जाने लगा, जब उन्होंने मना कर दिया तो भ्रष्टाचार के झूठे आरोप लगाकर निकाल दिया गया जब मुझे मंत्री बनाया गया था उसके ढाई तीन महीने बाद से मेरे ऊपर प्रेशर था पांच करोड़ रूपए देने का, वो पांच करोड़ रूपए ना दे पाने की कीमत तो आज तक भुगत रहा हूं कि मुझ पर झूठा इल्जाम लगा दिया गया और हटा दिया गया, अगर मैंने पांच करोड़ रूपए दिए होते तो झूठा आरोप ना लगता भ्रष्टाचार का।


आसिम का कहना है कि मीडिया को साधने के लिए केजरीवाल ने दिल्ली का एक बड़ा केबल नेटवर्क खरीदने की डील की, डील 25 करोड़ में तय हुई, जिसमें पांच करोड़ रूपए का बिल उनके नाम पर काटा गया। उसके लिए उन्होंने किसी एक केबल का सौदा किया था उसके 75 फीसदी शेयर इन्होंने 25 करोड़ रूपए में डन किए थे, इन्हें 25 करोड रूपए की जरूरत थी तो उसके लिए उन्होंने पांच लोग पार्टी में चुने जो पांच-पांच करोड़ रूपए जिनसे लेने थे, उसमें से मैं एक था।