रूठे कुमार विश्वास को अपने साथ ले गए केजरीवाल, कहा- मना लेंगे

नई दिल्ली ( 2 मई ): एमसीडी चुनाव में हार के बाद आम आदमी पार्टी में बवाल मचा हुआ है। पार्टी की हार को लेकर कुमार विश्वास पार्टी के शीर्ष नेतृत्व पर सवाल खड़ा किया है। कुमार विश्वास ने मंगलवार को दो टूक कहा कि पार्टी में गलत होने पर वे चुप नहीं रहेंगे। कुमार के बयान पर दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया ने भी उन्हें नसीहत देते हुए बाहर बयानबाजी न करने की सलाह दी थी।


आम आदमी पार्टी में कुमार विश्वास को मनाने की कोशिशें तेज हो गई है। विश्वास के आवास पर गाजियाबाद पहुंचे केजरीवाल और सिसोदिया कुमार के साथ उनके आवास से निकल गए हैं। माना जा रहा है कि तीनों नेता दिल्ली के मुख्यमंत्री के आवास पर गए हैं। इससे पहले गाजियाबाद में हुई मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत में दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि कुमार विश्वास को मना लेंगे।


इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के साथ विश्वास से मिलने उनके आवास गाजियाबाद पहुंचे। अपने अगले निर्णय के लिए आज रात की डेडलाइन देने वाले विश्वास को मनाने के लिए इससे पहले कपिल मिश्रा, कालका से विधायक अवतार सिंह उनके आवास पर पहुंचे, जबकि आशुतोष और संजय सिंह बहुत पहले से ही वहां मौजूद हैं।


इस बीच पार्टी से बागी विधायक देवेंद्र सहरावत भी कुमार विश्वास से मिलने पहुंचे थे, लेकिन कुमार विश्वास ने उनसे मिलने से इंकार कर दिया। इससे पहले आशुतोष और संजय सिंह विश्वास के आवास पर उनसे मिलने पहुंचे।


इस बीच कुमार विश्वास के समर्थकों के उनके घर के सामने नारेबाजी करते हुए अमानतुल्लाह के खिलाफ कार्रवाई को लेकर गेट पर धरना शुरू कर दिया। कुमार के घर के बाहर समर्थकों का ड्रामा जारी है।


विश्वास पर लगाए गए आरोपों को पर उनके समर्थक सहमत नहीं है। समर्थकों के मुताबिक पार्टी का शीर्ष नेतृत्व कार्यकर्ताओं को नजरअंदाज कर रहा है।