वरिष्ठ पेंशन बीमा योजना के लिए आधार कार्ड जरुरी

नई दिल्ली (26 नवंबर): वरिष्ठ पेंशन बीमा योजना का लाभ लेने के लिए अब आधार कार्ड को अनिवार्य कर दिया गया है। 20 नवंबर को वित्त मंत्रालय की एक अधिसूचना के अनुसार वरिष्ठ पेंशन बीमा योजना (वीपीबीवाई) के तहत लाभ लेने के लिए आधार कार्ड को अनिवार्य कर दिया गया है।

नोटिफिकेशन में कहा गया है कि जिन आधार पर आधार संख्या नहीं है, उन्हें 31 दिसंबर तक नामांकन के लिए एक आवेदन पत्र जमा करना होगा।

नोटिफिकेशन के मुताबिक इस योजना का लाभ लेने के लिए व्यक्ति को आधार संख्या के कब्जे का प्रमाण या आधार प्रमाणीकरण की प्रकिया से गुजरना होगा। आपको बता दे कि इस साल के शुरुआत में केंद्रीय कैबिनेट ने सीनियर सिटीजन के लिए पेंशन स्कीम (वरिष्ठ पेंशन बीमा योजना 2017) को मंजूरी दे थी। इस योजना के अंतर्गत लाइफ इंश्योरेंस कार्पोरेशन (एलआईसी-LIC) 10 वर्ष की अवधि के लिए 8 फीसदी का गारंटीशुदा रिटर्न देगी। यह योजना सरकार की सामाजिक सुरक्षा और वित्तीय समावेशन कार्यक्रम का एक हिस्सा है।

जानिए वरिष्ठ पेंशन बीमा योजना 2017 से जुड़ी 10 अहम बातें-

  • इसका उदेश्य वरिष्ठ नागरिकों (जिनकी आयु 60 वर्ष या उससे अधिक है) को आय सुरक्षा उपलब्ध कराना है।
  • वरिष्ठ पेंशन बीमा योजना 2017 का उद्देश्य सीनियर सिटिजन्स को ब्याज की गारंटीशुदा दर, जो कि 8 से 10 फीसदी है, से एश्योर्ड पेंशन मुहैया कराना है।
  • इस योजना के अंतर्गत वरिष्ठ नागरिक मासिक, तिमाही, छमाही या सालाना आधार पर पेंशन का चयन कर सकता है।
  • डिफ्रेंशियल रिटर्न- सरकार की इस स्कीम में 8 फीसदी का गारंटीशुदा रिटर्न दिया जाएगा। एलआईसी इस स्कीम के अंतर्गत प्राप्त रकम को निवेश करेगी, इस निवेश पर मिलने वाला रिटर्न अगर 8 फीसदी से कम होता है तो इसकी भरपाई सालाना आधार पर सब्सिडी के तौर पर करेगी।
  • वरिष्ठ पेंशन बीमा योजना 2017 का सब्सक्रिप्शन करने के लिए एक साल का वक्त दिया जाएगा। यह अवधि लॉन्चिंग की तारीख के बाद से एक वर्ष तक गिनी जाएगी।
  • वित्तीय योजनाकारों के मुताबिक सीनियर सिटिजन्स के लिए वरिष्ठ पेंशन बीमा योजना 2017, 8 फीसदी की ब्याज दर के लिहाज से एक अच्छा निवेश विकल्प है।
  • वरिष्ठ पेंशन बीमा योजना केंद्र सरकार की ओर से पेश की गई खास पेंशन योजना है, इसलिए इसमें किए गए निवेश में कम जोखिम रहता है।