सचिन-रहमान पर कोई सवाल नहीं उठाता तो मुझ पर क्यों : सलमान

नई दिल्ली (6 जून) :  'बॉलिवुड के सुल्तान' को गुस्सा क्यों आता है? इस साल के शुरू में रियो ओलंपिक के लिए सलमान ख़ान को गुडविल अंबेसडर चुना गया था तो स्पोर्ट्स जगत से जुड़ी कई हस्तियों ने इस पर ऐतराज़ जताया था। 'फ्लाइंग सिख' के नाम से पहचाने जाने वाले मिल्खा सिंह ने सलमान खान को गुडबिल एंबेसडर बनाए जाने  पर ऐतराज़ जताया था। लंदन ओलंपिक के कुश्ती में कांस्य पदक जीतने वाले पहलवान योगेश्वर दत्त ने भी ट्वीट्स करके बोर्ड पर अपनी नाराजगी जाहिर की थी। यहां तक कि सलमान को हटाने के लिए याचिका भी दायर की गई थी। लेकिन हाल में क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर और म्युज़िक डायरेक्टर ए.आर रहमान को गुडबिल एंबेसडर बनाया गया तो सलमान अपने दिल का मलाल जताने से खुद को नहीं रोक सके।  

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक सलमान खान ने एक इंटरव्यू में कहा,  "मीडिया को सचिन और रहमान के अंबेसडर बनाए जाने पर भी वही करना चाहिए था जो मेरे साथ किया गया था, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। मीडिया ने उन्हें उतनी कवरेज क्यों नहीं दी जितनी मुझे दी थी? जबकि इन दोनों में से एक किसी खेल से संबंधित नही हैं और दूसरे है भी तो उन्होंने सिर्फ एक ही खेल खेला खेला है।"

सलमान ने दलील दी ,"ए.आर रहमान को खिलाड़ी कहलाने के लिए किसी राज्य स्तर के खेल सर्टीफिकेट, किसी नेशनल लेवल के मेडल की जरूरत है? क्या वो बच्चे जो विभिन्न खेल खेलते हैं लेकिन कोई मेडल नहीं जीत पाते हैं तो क्या खिलाड़ी नही हैं? या फिर वो बच्चे जो किसी खिलाड़ी को फॉलो करते हैं खिलाड़ी नहीं कहलाते? तो फिर मुझे ही क्यों इस विवाद का खामियाजा भुगतना पड़ा।"

जब सलमान खान से पूछा गया कि आपके आपराधिक रिकॉर्ड ने तो इस विवाद को जन्म नहीं दिया? तो सलमान ने इसके जबाब में कहा, "आपको मेरे गुडविल अंबेसडर बनने पर इसलिए समस्या है कि मेरे ऊपर कोर्ट में मुकद्दमें चल रहे हैं, लेकिन हमारे यहां ऐसे बहुत से राजनीतिज्ञ हैं जिन पर कोर्ट में मुकद्दमें चल रहे हैं उनका क्या? देश ज्यादा महत्वपूर्ण है या ओलंपिक?' सलमान खान कहते हैं कि 'मेरे लिए मेरा देश सबसे महत्वपूर्ण है। अगर राजनीतिज्ञ अपनी कुर्सी छोड़ने को तैयार हैं तो मैं भी अंबेसडर का पद छोड़ने के लिए तैयार हूं। हमारे देश में बहुत से ऐसे लोग हैं जो घोटाले करते हैं, भ्रष्टाचार और बलात्कार करते हैं लेकिन वे अभी भी अपनी कुर्सी पर काबिज हैं?"

बता दें कि सलमान को एंबेसडर बनाए जाने पर विवाद के समय टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने उनका पुरज़ोर समर्थन किया था। गांगुली ने कहा था-  "आप इससे इनकार नहीं कर सकते कि सलमान लोकप्रिय है और वो रियो ओलंपिक में विजीबिलिटी लाएंगे। वे एंटरटेनर हैं। मैं समझता हूं कि उनके अंबेसडर चुने जाने में कुछ भी गलत बात नहीं है। चाहें तो और भी अंबेस़डर चुन सकते हैं। ये कहीं नहीं लिखा कि एक ही अंबेसडर होगा।"