News

कोरोनावायरस की रोक-थाम के लिए चीन में मिलिटरी ने मोर्चा संभाला

कोरोनावायरस से निपटने के लिए चीन में मिलिटरी ने मोर्चा संभाला लिया है। चीन में कोरोनावायरस की विकरालता बढ़ती जा रही है। एक तरफ जहां चीन की शी जिनपिंग सरकार के हाथ पैर फूल रहे हैं वहीं विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोनावायरस से निपटने के लिए गुरुवार को आपात बैठक बुलाई है।

Xi Jinping, Military Intervention,Coronavirus, Outbreak

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (29 जनवरी): कोरोनावायरस से निपटने के लिए चीन में मिलिटरी ने मोर्चा संभाला लिया है। चीन में कोरोनावायरस की विकरालता बढ़ती जा रही है। एक तरफ जहां चीन की शी जिनपिंग सरकार के हाथ पैर फूल रहे हैं वहीं विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोनावायरस से निपटने के लिए गुरुवार को आपात बैठक बुलाई है। इस आपात बैठक की जानकारी विश्व स्वास्थ्य संगठन के डायरेक्टर जनरल टेडरॉस एडाहनम गेबरेसस ने एक ट्वीट के माध्यम से जारी की है। टेडरॉस ने कहा है कि दुनियाभर में तेजी से फैल रहे कोरोनावायरस ने निपटने के लिए रोग एक चिकिस्ताविज्ञानियों के एक बड़े नेटवर्क के साथ लगातार काम कर रहा है। उन्होंने कहा कि चीन के लोग इस वायरस के प्रकोप से सबसे ज्यादा पीड़ित हैं। उनके जीवन और अर्थव्यवस्था कोरोना वायरस से बुरी तरह असर डाला है।

Xi Jinping, Military Intervention,Coronavirus, Outbreak

उधर, कोरोनावायरस से निपटने के लिए चीन के राष्ट्ररपति शी जिनपिंग ने मिलिटरी को सड़कों पर उतने के निर्देश दे दिये हैं। अभी तर कोरोना वायरस से चीन मे 132 लोगों की मौत हो चुकी है। 6 हजार से ज्यादा संक्रमित लोगों की पहचान हो चुकी है और हजारों के संक्रमित होने की आशंका है। शी जिनपिंग ने मिलिटरी को आदेश में कहा है कि हम कोरोनावायरस नाम के राक्षस को खत्म करना है और इसके खिलाफ लड़ाई को जीतना है। शी जिनपिंग के आदेश के बाद चीन की मिलिटरी के अफसर और कर्मचारी कोरोनावायरस के रोकथाम में लगी टीमों के साथ तेजी से जुड़ रहे हैं। शी जिनपिंग ने मिलिटरी अफसरों से कहा है कि उन्हें अपना काम वुहान के हुआओशेनशान अस्पताल से शुरु करना चाहिए। कोरोनावायरस के पीड़ितों का इलाज करने के लिए हुआओशेनशान में अस्थाई अस्पताल बनाया गया है। इसमें सिर्फ कोरोनावायरस से पीड़ितों का उपचार किया जा रहा है।

Xi Jinping, Military Intervention,Coronavirus, Outbreak

चीन के अलावा भारत, कनाडा, अमेरिका और जापान जैसे कई देशों ने वुहान से अपने नगारिकों को निकालने की प्रक्रिया शुरु कर दी है। हालांकि चीन ने हालात सामान्य होने तक वुहान को पूरी तरह सील कर दिया है। किसी व्यक्ति को न तो वुहान छोड़ने की इजाजत है और न ही किसी को वुहान आने दिया जा रहा है। वुहान के अलावा कई ओर शहरों में भी इसी तरह सख्त पबांदियां लगाई गई हैं।

इसे भी देखेंः चीन: सामने आईं कोरोना वायरस की खौफनाक तस्वीरें

Images Courtesy: Google


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top