News

ईरान की सेंट्री फ्यूज एक्टिव करने की धमकी, ट्रंप की बिना शर्त वार्ता की पेशकश

म्नुचिन ने कहा, 'राष्ट्रपति ने स्पष्ट कर दिया है कि उन्हें बिना शर्त बैठक करने पर खुशी होगी लेकिन हम ईरान पर अधिकतम दबाव बनाए रखेंगे।' अमेरिका का यह रुख ईरान के उस बयान के एक दिन बाद आया है, जिसमें उसने अपने संवर्धित यूरेनियम भंडार को बढ़ाने के लिए सेंट्रीफ्यूज को सक्रिय करने की घोषणा की

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (11 सितंबर): अफगानिस्तान में बुरी तरह फंसे अमेरिका और जी-20 देशों के दबाव के चलते ट्रंप ने ईरान के सामने बिना शर्त वार्ता की पेशकश की है। अमेरिकी  मंत्री स्टीवन म्नुचिन ने कहा है कि राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप अपने ईरानी समकक्ष हसन रूहानी से बिना शर्त मिलने को तैयार हैं।

 थी। पिछले साल मई में अमेरिका और ईरान के बीच तनाव उस समय बढ़ गया था जब राष्ट्रपति ने तेहरान के साथ 2015 में हुए परमाणु समझौते से अलग होने की घोषणा की और ईरान पर दोबारा आर्थिक प्रतिबंध लगा दिए। अमेरिकी प्रतिबंध के बाद भारत चीन सहित तमाम मुल्कों ने ईरान से तेल आयात रोक दिया था।

ईरान ने अमेरिका के एक ड्रोन को मार गिराया है, जिसके बाद भड़के राष्ट्रपति ट्रंप ने हमले का आदेश भी दे दिया था लेकिन 10 मिनट पहले इसे रोक दिया। हमला भले ही रुक गया हो पर तनाव बरकरार रहा। अब दुनिया की निगाहें एक बार फिर अमेरिकी-ईरान पर है। 

हालांकि, ईरान के सामने बिना शर्त वार्ता का प्रस्ताव ट्रंप एक बार पहले भी रख चुके हैं, लेकिन उस वक्त ईरान ने वार्ता से पहले प्रतिबंधों को समाप्त किये जाने की शर्त रखी थी।  ईरान ने उस वक्त कहा था कि जब तक अमेरिका परमाणु संधि को बहाल नहीं करता और बाकी प्रतिबंधों को नहीं हटाएगा तब तक ईरान अमेरिका के साथ किसी तरह की वार्ता नहीं करेगा। इसके बाद अमेरिका ने ईरान के सशत्र बल रिवोल्यूशनरी गार्ड को आतंकवादी संगठन की सूची में डाल दिया था। इसके बाद अमेरिका और ईरान के बीच संबंध और तनावपूर्ण हो गये थे।

Images Courtesy:Google


Top