News

बिश्केक डिनर टेबल पर अलग-थलग पड़े पाक पीएम इमरान खांन

शंघाई सहयोग संगठन यानी एससीओ की बैठक में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को वीवीआईपी ट्रीटमेंट मिलने से पाकिस्तानी खेमा जल-भुनकर राख हो गया। भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने इमरान खान डरे-सहमे और और असहज रहे... ट्विटर मैसेज और चिट्ठियां भेज कर ड्रामा करने वाले इमरान खान की हिम्मत नहीं हुई कि वो भारतीय प्रधानमंत्री के सामने आंखें तो दूर की बात वो आगे आ कर हाथ भी मिला सकें

PM Modi in SCO Summit, Bishkek

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (13 जून): शंघाई सहयोग संगठन यानी एससीओ की बैठक में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को वीवीआईपी ट्रीटमेंट मिलने से पाकिस्तानी खेमा जल-भुनकर राख हो गया। भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने इमरान खान डरे-सहमे और और असहज रहे। ट्विटर मैसेज और चिट्ठियां भेज कर ड्रामा करने वाले इमरान खान की हिम्मत नहीं हुई कि वो भारतीय प्रधानमंत्री के सामने आंखें तो दूर की बात वो आगे आ कर हाथ भी मिला सकें। एससीओ नेताओं के लिए आयोजित किये गये डिनर में पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान महज चार कुर्सियों के फासले पर मोदी से नजरें चुराकर बैठे रहे। जहां एससीओ के बाकी नेताओं के लिए एक जैसे डिनर का इंतजाम था तो वहीं भारतीय प्रधानमंत्री मोदी के लिए खास तौर पर भारतीय शाकाहारी व्यंजनों की व्यवस्था की गयी थी।दरअसल , बिशकेक सम्मेलन में पहुंचने से पहले ही भारतीय प्रधानमंत्री मोदी ने साफ संकेत दे दिये थे आतंकपरस्त पाकिस्तान से किसी तरह की बात नहीं करनी है। इसलिए जैसे ही उन्हें जानकारी मिली कि अमरनाथ यात्रा मार्ग पर अनंतनाग में दो पाकिस्तानी आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर धोखे से हमला कर दिया है तो उन्होंने पाकिस्तानी आकाशमार्ग से जाने का फैसला टाल  दिया। प्रधानमंत्री मोदी ओमान और ईरान के आकाश मार्ग से बिश्केक पहुंचे।

इससे पहले पाकिस्तानी खेमे ने मोदी को बात-चीत के लिए मनाने के लिए सभी चालें चल डालीं। भारत के दोस्तों से भी दबाव डलवाने की कोशिश की। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिगं के माध्यम से भी कोशिश की गयी कि औपचारिक न ही सही अनौपचारिक ही सही सम्मेलन के गलियारे में कहीं भी खड़े-खड़े हाथ मिला लिये जायें। ज्यादा न सही मोदी  कुछ मिनट ही रुक कर इमरान से बात कर लें। लेकिन भारतीय खेमे ने साफ संदेश दिया कि पहले कश्मीर में हो रही आतंकी वारदातों के लिए जिम्मेदार आतंकी गिरोहों के खिलाफ असरदार कार्रवाई नहीं की जायेगी और अंतर्राष्ट्रीय पटलों पर बार-बार कश्मीर का मुद्दा उठाना बंद नहीं किया जाता तब तक पाकिस्तान से किसी तरह की कोई बात-चीत नहीं होगी।

Images Courtesy: google


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top