अब किसानों पर मेहरबान हुई गुजरात सरकार, 650 करोड़ का बिजली बिल किया माफ


न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (19 दिसंबर): तीन राज्यों में कांग्रेस के चुनाव जीतने के बाद किसानों की लॉटरी लग गई है। मध्यप्रदेश के बाद छत्तीसगढ़ ने किसानों का कर्ज माफ किया तो गुजरात सरकार ने भी किसानों पर बकाया 650 करोड़ के बिजली बिल को माफ करने की घोषणा कर दी। गुजरात सरकार ने इस बारे में ऐलान करते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले किसानों पर करीब 650 करोड़ रुपये का बकाया बिजली का बिल माफ किया जाता है। सरकार ने यह भी  साफ किया कि किसानों ने घर और कृषि के लिए जो बिजली कनेक्शन लिए हुए हैं और उनपर जो भी बकाया है, उसको माफ किया जाता है। यही नहीं सरकार ने उन किसानों का बिल भी माफ किया है, जिनपर बिजली चोरी का आरोप था और पेनल्टी लगाई गई थी। इसके अलावा शहर में रहने वाले बीपीएल कॉर्ड धारकों को भी सरकार की इस योजना का लाभ मिलेगा।



गुजरात सरकार की इस योजना का करीब छह लाख 22 हजार किसान उपभोक्ताओं को लाभ मिलेगा। गुजरात सरकार के ऊर्जा मंत्रालय के अनुसार, गुजरात के ग्रामीण इलाकों में रहने वाले छह लाख 22 हजार परिवारों पर अब तक करीब 650 करोड़ का बिजली बिल बकाया था, जिसे अब राज्य सरकार ने माफ कर दिया है। इनमें अधिकांश किसान व पशुपालक परिवार शामिल हैं। ग्रामीण इलाके के इन परिवारों को यह सीधा लाभ देने का लाभ भाजपा को आगामी लोकसभा चुनाव में मिल सकता है। साथ ही, सरकार को लेकर किसानों की नाराजगी भी कम होगी।


गुजरात सरकार ने अब तक किसानों का कर्ज माफ नहीं किया, लेकिन बिजली बिल माफ कर बड़े पैमाने पर किसान, पशुपालक व ग्रामीण परिवारों को लुभाने का यह प्रयास कारगर साबित हो सकता है। कांग्रेस प्रवक्ता मनीश दोशी ने इसे चुनावी फैसला बताया है। उनका कहना है कि कांग्रेस ने सत्ता में आते ही अपना वादा निभाया है, भाजपा अपने वादे पूरे करे।