ट्रंप ने पाकिस्तान को दी जाने वाली 3100 करोड़ की मदद रोकी और इमरान से कहा भारत तनाव करो कम

न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली (17 अगस्त): अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने जम्मू एवं कश्मीर के हालात को लेकर भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव कम करने के लिए द्विपक्षीय वार्ता पर जोर दिया है। व्हाइट हाउस ने शनिवार को यह जानकारी दी। न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा पारिषद (यूएनएससी) की बैठक से कुछ घंटों पहले शुक्रवार को ट्रंप ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से टेलीफोन पर बात की। इसके साथ ही अमेरिका ने पाकिस्तान को दी जाने वाली 3130 करोड़ रुपये की मदद को भी रोक दिया है। पाकिस्तान को एक दिन में यह तीसरा बड़ा झटका है। जो उसे अमेरिका की तरफ से दिया गया है।

एक बयान में उप प्रेस सचिव होगन गिदले ने कहा, "राष्ट्रपति डोनाल्ड जे. ट्रंप ने वाशिंगटन डीसी में पिछले महीने हुई सफल मुलाकात के बाद क्षेत्रीय विकास पर चर्चा करने के लिए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से बात की।"

व्हाइट हाउस ने कहा कि ट्रंप ने जम्मू एवं कश्मीर की परिस्थितियों को लेकर भारत और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय वार्ता करने का महत्व उजागर किया।

गिदले ने कहा, "इसके अलावा दोनों राष्ट्र अध्यक्षों ने अमेरिका और पाकिस्तान के बीच बढ़ते संबंधों और व्हाइट हाउस में उनकी हालिया बैठक के दौरान बनी गति पर आगे कैसे बढ़ना है, इस पर बात की।"

नई दिल्ली में अमेरिकी उप विदेश मंत्री जॉन सुलिवन ने शुक्रवार को ही भारतीय विदेश मंत्री एस.जयशंकर से मुलाकात की थी।

क्षेत्र में चीन के बढ़ते प्रभाव को रोकने के लिए व भारत-अमेरिकी रणनीतिक संबंधों को और अधिक प्रगाढ़ बनाने को लेकर दोनों मंत्रियों ने चर्चा की।

एस.जयशंकर ने अपनी और अमेरिकी उप विदेश मंत्री की तस्वीर पोस्ट करते हुए ट्विटर पर कहा, "जॉन सुलिवन से मुलाकात करके खुशी हुई। हमारे रणनीतिक संबंधों को और अधिक प्रगाढ़ बनाने पर चर्चा की।"

यह बैठक उस वक्त हुई, जब अमेरिका ने बयान दिया कि उसकी कश्मीर नीति में कोई बदलाव नहीं आया है। यह द्विपक्षीय मामला है और दोनों देशों को इसे साथ मिलकर सुलझाना चाहिए।

Images Courtesy:Google