News

कोहली बोले- टीम के लिए ओवर की हर गेंद पर लगा सकता हूं डाइव

टीम इंडिया और वेस्टइंडीज के बीच पांच मैचों की वनडे सीरीज जारी है। दो मैचों के बाद टीम इंडिया 1-0 से आगे है। बुधवार को टीम इंडिया और वेस्टइंडीज के बीच विशाखापट्टनम में खेला गया मैच टाई हो गया था। इस मैच के दौरान कप्तान विराट कोहली ने नॉटआउट 157 रनों की धांसू पारी खेलते हुए वनडे क्रिकेट में सबसे तेज 10 हजार रनों का वर्ल्ड रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया था।

                                    Photo: Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (26 अक्टूबर): टीम इंडिया और वेस्टइंडीज के बीच पांच मैचों की वनडे सीरीज जारी है। दो मैचों के बाद टीम इंडिया 1-0 से आगे है। बुधवार को टीम इंडिया और वेस्टइंडीज के बीच विशाखापट्टनम में खेला गया मैच टाई हो गया था। इस मैच के दौरान कप्तान विराट कोहली ने नॉटआउट 157 रनों की धांसू पारी खेलते हुए वनडे क्रिकेट में सबसे तेज 10 हजार रनों का वर्ल्ड रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया था।

विराट ने इस खास पल को लेकर बीसीसीआई टीम को एक इंटरव्यू दिया है। विराट ने कहा कि देश पर खेलना किसी पर अहसान करना नहीं है और शायद यही कारण है कि इंटरनेशनल क्रिकेट में 10 साल बिताने के बावजूद भारतीय कप्तान विराट कोहली खुद को कुछ खास का हकदार नहीं मानते हैं। विराट ने ये भी कहा कि अभी उन्हें बहुत साल खेलना है। आपको बता दें कि पहले वनडे के बाद विराट ने कहा था कि मेरे करियर के कुछ ही साल बचे हैं। ऐसे में विराट का ये कहना कि वो अभी बहुत साल खेलेंगे, फैन्स के लिए राहत की बात है।

'मैंने किसी पर अहसान नहीं किया'

विराट ने कहा, 'मेरे लिए देश का प्रतिनिधित्व करना बहुत बड़ा सम्मान है और यहां तक कि दस साल खेलने के बाद भी मुझे ऐसा अहसास नहीं होता कि मैं किसी खास चीज का हकदार हूं। आपको तब भी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रत्येक रन के लिए कड़ी मेहनत करनी होगी।' उन्होंने कहा, 'कई लोग हैं जो भारत की तरफ से खेलना चाहते हैं। जब आप खुद को उस स्थिति में रखते हो तो आपके अंदर भी रनों की वही भूख होनी चाहिए और चीजों को तयशुदा नहीं मानना चाहिए। किसी भी स्तर पर इसे आसान नहीं मानो।'

                                    Photo: Google

विराट ने कहा कि टीम को प्रतिबद्धता की जरूरत होती है। उन्होंने कहा, 'अगर मुझे एक ओवर में छह बार डाइव लगानी पड़े तो तब भी मैं टीम के लिए ऐसा करूंगा। क्योंकि ये मेरा कर्तव्य है और इसके लिए मुझे टीम में चुना गया है। ये मेरे काम का हिस्सा है। मैं किसी पर अहसान नहीं कर रहा हूं।' उन्होंने कहा, 'मैं खुद को भाग्यशाली मानता हूं। ये चीजें ज्यादा मायने नहीं रखती लेकिन आप अपने करियर में दस साल खेलने के बाद इस मुकाम पर पहुंचे हैं और ये मेरे लिए खास है क्योंकि मैं इस खेल को बहुत चाहता हूं और अधिक से अधिक खेलना चाहता हूं। मेरे लिए ये सबसे महत्वपूर्ण है।' उन्होंने कहा, 'इसलिए मैं खुश हूं कि मैं इतने लंबे समय तक खेलने में सफल रहा और उम्मीद है कि आगे भी खेलता रहूंगा।'


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top