News

281 रन की यादगार पारी को लेकर लक्ष्मण ने किया चौंकाने वाला खुलासा

टीम इंडिया के के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ने अपने करियर में कई शानदार पारियां खेलीं। उनकी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट मैचों में खेली गई दो पारियों का जिक्र हमेशा होता है। एक लक्ष्मण द्वारा साल 2000 में सिडनी में खेली गई 167 रन की पारी और दूसरा 2001 में कोलकाता में जड़े 281 रन। ईडन गार्डन्स पर 281 रन की पारी बदौलत ही भारतीय टीम फॉलोऑन के बावजूद ऑस्ट्रेलिया को शिकस्त देने में कामयाब हो सकी थी। 17 साल बाद अपनी इस ऐतिहासिक पारी को लेकर लक्ष्मण ने ऑटोबायोग्राफी में चौंकाने वाला खुलासा किया है। ऑटोबायोग्राफी '281 एंड बियोंड' के रिलीज के दौरान लक्ष्मण ने खुलासा किया है कि वह कोलकाता मैच के लिए अनफिट थे।

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (24 नवंबर): टीम इंडिया के के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ने अपने करियर में कई शानदार पारियां खेलीं। उनकी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट मैचों में खेली गई दो पारियों का जिक्र हमेशा होता है। एक  लक्ष्मण द्वारा साल 2000 में सिडनी में खेली गई 167 रन की पारी और दूसरा 2001 में कोलकाता में जड़े 281 रन। ईडन गार्डन्स पर 281 रन की पारी बदौलत ही भारतीय टीम फॉलोऑन के बावजूद ऑस्ट्रेलिया को शिकस्त देने में कामयाब हो सकी थी। 17 साल बाद अपनी इस ऐतिहासिक पारी को लेकर लक्ष्मण ने ऑटोबायोग्राफी में चौंकाने वाला खुलासा किया है। ऑटोबायोग्राफी '281 एंड बियोंड' के रिलीज के दौरान लक्ष्मण ने खुलासा किया है कि वह कोलकाता मैच के लिए अनफिट थे। 

लक्ष्मण ने कहा कि उस मैच (कोलकाता टेस्ट) में जिस स्थिति में हम थे, उसके मुताबिक 281 रन की पारी एक महत्वपूर्ण उपलब्धि थी। साथ ही मैं भी टेस्ट मैच खेलने के लिए पूरी तरह फिट नहीं था। जिस वक्त में एंड्रयू लेपस (पूर्व फिजियो) के पास गया उस समय हेमांग बदानी (पूर्व क्रिकेटर) फिजियो रूम में थे। वास्तव में मुझे लगता है कि मैं टेस्ट मैच खेलने में उनकी वजह से ही सक्षम हो पाया। 

कोलकाता टेस्ट मैच में पूर्व भारतीय बल्लेबाज राहुल द्रविड़ ने भी 180 रन की अहम पारी खेली थी। द्रविड़ और लक्ष्मण ने 376 रनों की रिकॉर्ड साझेदारी कर भारतीय टीम पर मंडर रहे हार के संकट को दूर किया था। लक्ष्मण ने 376 रनों की साझेदारी को याद करते हुए कहा कि द्रविड़ ने खेलने के दौरान लगातार उन्हें प्रेरित किया था। 

लक्ष्मण ने आगे कहा कि पहले मैं टेस्ट मैच खेलने के लिए नहीं जा रहा था और एंड्रयू ने मुझे मैदान पर जाने के लिए फिट बना दिया। यह मेरे लिए अपना स्वाभिवक खेल खेलने का एक शानदार मौका था।यह मुकाबला महत्वपूर्ण टेस्ट मैच था क्योंकि मैंने पहले टेस्ट मैच (मुंबई में) में रन नहीं बनाए थे। गेंद के हिसाब से मैंने अपना स्वाभिवक खेल खेला। पहले क्या हुआ या क्या होने जा रहा है इसके बारे में वास्तव में मैंने बिलकुल नहीं सोचा। इसका राहुल द्रविड़ को जाता है जिस तरह से उन्होंने मुझे दूसरे छोर पर प्रेरित किया। राहुल के साथ वो साझेदारी बहुत महत्वपूर्ण थी।

गौरतलब है कि कोलकाता टेस्ट मैच में मैच में भारत ने 171 रन से जीत दर्ज की थी। ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया था और पहली पारी में 445 रन बनाए। वहीं, भारतीय बल्लेबाज पहली पारी में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए और टीम 171 रन पर ढेर हो गई। इसके बाद भारत को फॉलोऑन खेलने के लिए मजबूर होना पड़ा। भारत ने अपनी दूसरी में शानदार प्रदर्शन किया और लक्ष्मण-राहुल की पारियों के दम पर ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 384 रन का टार्गेट दिया। मेहमान टीम दूसरी पारी में महज 212 रन बनाकर ऑल आउट हो गई और इसी के साथ भारत ने मैच अपने नाम कर लिया। 


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top