Blog single photo

शरद पवार को बड़ा झटका, बारामती और इंदापुर को नहीं मिलेगा अतिरिक्त पानी

महाराष्ट्र में एक तरफ तो सूखा पड़ रहा है, वहीं दूसरी तरफ पानी को लेकर सियासी जंग तेज होती जा रही है। पानी को लेकर एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार को पड़ा झटका लगा है।

sharad-pawar

Image Source Google

इंद्रजीत सिंह, न्यूज 24 ब्यूरो, मुम्बई( 13 जून): महाराष्ट्र में एक तरफ तो सूखा पड़ रहा है, वहीं दूसरी तरफ पानी को लेकर सियासी जंग तेज होती जा रही है। पानी को लेकर एनसीसी अध्यक्ष शरद पवार को पड़ा झटका लगा है। एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार के गढ़ बारामती और इंदापुर को नीरा देवघर डैम से अब अतिरिक्त पानी नहीं मिलेगा।

 कृष्णा वैली डेवलपमेंट कार्पोरेशन ने राज्य सरकार को प्रपोजल भेज दिया है। पुणे जिले के बारामती और इंदापुर तहसील में भेजा जाता था,  लेकिन कृष्णा वैली डेवलपमेंट कार्पोरेशन ने राज्य सरकार को जो प्रस्ताव भेजा है उससे अब अतिरिक्त जल का इस्तेमाल पड़ोसी सूखा प्रभावित सातारा, और सोलापूर  जिले में किया जा सकता है।

  महाराष्ट्र के जल संसाधन मंत्री ने पहले ही कहा था कि बारामती और इंदापुर को उनके हिस्से से ज्यादा पानी मिलता है,  हो सकता है एसा एनसीपी प्रमुख शरद पवार के राजनीतिक दबाव के कारण  हो ,लेकिन इस मुद्दे को लेकर शरद पवार ने मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस से बात की थी।

लेकिन ताजा प्रपोजल ने शरद पवार की मुश्किल बढ़ा दी है और अब पानी का मामला राजनीतिक बर्चस्व की लड़ाई बन गई है। महाराष्ट्र के कुछ हिस्सों में अब सूखा पड़ रहा है, सूखे की वजह से ही किसानों की फसल भी तबाह होती जा रही है। महाराष्ट्र में पानी को लेकर हाहाकार मचा हुआ है।

सरकार की तरफ से भी लोगों की समस्या दूर करने की पुरजोर कोशिश की जा रही है। अब तो हालत ये है कि पानी को लेकर राज्य में सियासी जंग भी तेज होती जा रही है। महाराष्ट्र में पानी की समस्या से हर कोई परेशान नजर आ रहा है। एनसीपी के अध्यक्ष शरद पवार भी पानी की समस्या को लेकर महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फणनवीस से मुलाकात कर चुके हैं। अब शरद पवार के क्षेत्र को अतिरिक्त पानी न देने का प्रशासन ने प्लान तैयार किया है।

Tags :

NEXT STORY
Top