अब बढ़ेगी आपकी EMI, RBI ने बढ़ाया रेपो रेट

नई दिल्ली (6 जून): महंगाई के मोर्चे पर बेहाल आम आदमी के एक और बुरी खबर है। भारतीय रिजर्व बैंक ने रेपो रेट में 0.25 फीसदी की बढ़ोतरी कर दिया है। RBI ने रेपो रेट को 6 फीसदी से बढ़ाकर 6.25 फीसदी कर दिया है। वहीं रिवर्स रेपो रेट भी 0.25 फीसदी बढ़कर 6 फीसदी हो गया है। ये पहला मौका है जब मौजूदा केंद्र सरकार के कार्यकाल में RBI ने रेपो रेट में बढ़ोतरी किया है। RBI के इस फैसले से बैंकों से कर्ज लेना महंगा हो जाएगा। लिहाजा इसकी मार आपके जेब पर भी पड़ेगी। अब कर्ज लेना महंगा हो जाएगा। साथ ही आपकी EMI भी बढ़ जाएगी।वहीं RBI ने वित्त वर्ष 2019 ग्रोथ अनुमान 7.4 फीसदी पर बरकरार रखा है। अप्रैल-सितंबर के बीच GDP ग्रोथ 7.5-7.6 फीसदी रहने का अनुमान है। अक्टूबर-मार्च के बीच GDP ग्रोथ 7.3-7.4 फीसदी रहने का अनुमान है। RBI ने महंगाई दर का अनुमान बढ़ा दिया है। अप्रैल-सितंबर के बीच महंगाई दर 4.8-4.9 फीसदी रहने का अनुमान है। अक्टूबर-मार्च के बीच महंगाई दर 4.7 फीसदी रहने का अनुमान है।क्या होती है रेपो रेट..?रेपो रेट वह दर होती है जिसपर बैंकों को आर.बी.आई. कर्ज देता है। बैंक इस कर्ज से ग्राहकों को लोन मुहैया कराते हैं। रेपो रेट कम होने का अर्थ है कि बैंक से मिलने वाले तमाम तरह के कर्ज सस्ते हो जाएंगे।क्या होती है रिवर्स रेपो रेट..?यह वह दर होती है जिस पर बैंकों को उनकी ओर से आर.बी.आई. में जमा धन पर ब्याज मिलता है। रिवर्स रेपो रेट बाजारों में नकदी की तरलता को नियंत्रित करने में काम आती है।