जगन्नाथ मंदिर के रहस्यमयी खजाने की चाबी गायब, मचा बवाल

पुरी (4 जून): पुरी के प्रसिद्ध जगन्नाथ मंदिर के रहस्यमयी खजाने की चाबी गायब हो गई है। चाबी के गायब होने पर बवाल मचा है। इसको लेकर पुरी के शंकराचार्य और राज्य में विपक्षी दल बीजेपी ने विरोध जताया है। आपको बता दें कि पिछले दिनों ओडिशा हाईकोर्ट के आदेश के बाद 16 सदस्यों की एक टीम ने 34 सालों के बाद जांच के लिए उस कमरे में प्रवेश किया, जिस कमरे में खजाना रखा हुआ था। ओडिशा हाईकोर्ट 2016 से मंदिर में भारतीय पुरातत्व विभाग द्वारा हो रहे मंदिर के पुनरुद्धार के काम पर निगरानी रख रहा है।श्री जगन्नाथ मंदिर प्रबंधन समिति के सदस्य रामचंद्र दास महापात्रा का कहना है कि 4 अप्रैल को समिति की बैठक हुई थी, जिसमें यह बात सामने आई कि खजाने के अंदर के कमरे की चाबी गायब हो गई है। साथ ही उनका कहना है कि न तो मंदिर प्रशासन और न ही पुरी जिला कोषागार के पास अंदर के कमरे की चाबी है। इस बात का पता दो महीने बाद चला है।वहीं पुरी के शंकराचार्य स्वामी निश्चलानंद सरस्वती ने इस घटना के लिए ओडिशा सरकार की आलोचना की है। उन्होंने कहा कि यह घटना बताती है कि राज्य सरकार और मंदिर प्रशासन अपनी जिम्मेदारियों को पूरा करने में नाकाम रही। उधर बीजेपी ने मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से इस घटना पर सफाई की मांग की है। राज्य में बीजेपी के प्रवक्ता पीतांबर आचार्य का कहना है कि मुख्यमंत्री पटनायक को इसके लिए स्पष्टीकरण देना चाहिए कि चाबी कैसे गायब हुई और इसके लिए कौन जिम्मेदार है।