News

दाऊद के गांव वाली प्रॉपर्टी भी होगी नीलाम, मुम्बई में भी चलेगा बुल्डोजर

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम (Daud Ibrahim) पर लगातार एजेंसियों का शिकंजा कसता जा रहा हैं,अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद (Daud Ibrahim) इब्राहिम की कुल 13 प्रोपर्टी (Property) की नीलामी में है। यह सभी प्रॉपर्टी (Property) महाराष्ट्र (Maharashtra) के

Dawood Ibrahim, दाऊद इब्राहिम

Image Source Google

दीपक दुबे, न्यूज 24 ब्यूरो, मुंबई(12 दिसंबर):  अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम (Daud Ibrahim) पर लगातार एजेंसियों का शिकंजा कसता जा रहा है।अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद (Daud Ibrahim) इब्राहिम की कुल 13 प्रोपर्टी (Property) की नीलामी में है। यह सभी प्रॉपर्टी (Property) महाराष्ट्र (Maharashtra) के रत्नागिरी के खेड़ जिले में स्थित है। वित्त मंत्रालय के competent authority ने हरी झंडी दे दी है की दाऊद के पैतृक गांव की प्रॉपर्टी नीलाम की जाएं। सफीमा के अधिकारी के अनुसार 13 प्रोपर्टी की लिस्ट तैयार की गई है, जिसमें दाऊद का 2 मंजिला पैतृक घर, पेट्रोल पंप, बगीचा, फार्म हाउस शामिल है। सफीमा के मुताबिक सारी जरूरी कागजी काम पूरा कर लिया गया है। अब प्रोपर्टी का बेस प्राइस तय किया जाना है, जहां सभी प्रोपर्टी का वैल्युएशन निकाला जाएगा। अधिकारी के मुताबिक थोड़ी देरी नीलामी में महज इस वजह से हुई है कि उनके करीबी इकबाल मिर्ची की 2 प्रॉपर्टी की निलामी में व्यस्त थे। सफीमा अधिकारियों ने माना कि बाजार दर की तुलना में इन दोनों संपत्तियों का आरक्षित मूल्य बहुत अधिक था। यही वजह है कि कोई बोली लगाने वाले नहीं थे। जिसका फिर से आरक्षित मूल्य तय किया जाएगा। सूत्रों के अनुसार बंगले का निर्माण दाऊद के पिता इब्राहिम कासकर ने कराया था, जो उस वक्त मुंबई पुलिस में कार्यरत थे। इससे पहले सफीमा में 600 वर्ग फुट के फ्लैट की नीलामी की थी। मुंबई के नागपाड़ा के गॉर्डन हॉल अपार्टमेंट में स्थित है। यह संपत्ति दाऊद की बहन हसीन पारकर की थी, जिसकी कीमत 1.80 करोड़ रुपये थी, पिछले साल सफीमा ने प्रॉपर्टी अमीना मेंशन को भी नीलाम की थी जो कि पाकमोडिया स्ट्रीट में स्थित है। संपत्ति का आरक्षित मूल्य 79.43 लाख रुपये था।

दाऊद की मुम्बई की प्रॉपर्टी पर जल्द चलेगा बुलडोजर

वहीं, भिंडी बाजार इलाके में स्थित बिल्डिंग में दाऊद का फ्लैट था जिसे टाडा कोर्ट के आधीन सीज किया गया था, बॉम्बे हाई कोर्ट ने  भिंडी बाजार इलाके में स्थित हाजी इस्माइल हाजी हबीब मुसाफिरखाना इमारत के पुनर्विकास के लिए डेक को साफ कर दिया। इस इमारत में अंडरवर्ल्ड गैंगस्टर दाऊद इब्राहिम के फ्लैट  हैं।इमारत को अब सैफी बुरहानी अपलिफ्टमेंट ट्रस्ट (SBUT) द्वारा पुनर्विकास किया जाएगा, जो इब्राहिम के स्वामित्व वाले फ्लैटों को छोड़कर सभी पात्र किरायेदारों और दुकानदारों का पुनर्वास करेगा। 

गैंगस्टर दाऊद इब्राहिम के स्वामित्व वाले इन  फ्लैटों को एक विशेष टाडा अदालत को सौंप दिया जाएगा, जिसने पहले उसकी संपत्तियों को जब्त कर लिया था। न्यायमूर्ति सत्यरंजन धर्माधिकारी और रियाज छागला की एक पीठ ने एक चैरिटी आयुक्त के आदेश को बरकरार रखा, जिसने एसबीयूटी को मुसाफिरखाना भवन की बिक्री की अनुमति दी थी।बिक्री के आदेशों को इमारत के किरायेदारों और दुकानदारों द्वारा चुनौती दी गई थी। उन्होंने दावा किया कि इमारत एक वक्फ संपत्ति है और इसे बेचा नहीं जा सकता है। इस प्रकार, किरायेदारों ने चैरिटी आयुक्त के आदेशों पर रोक लगाने की मांग की, जिससे किसी भी समय इमारत को गिराया जा सके। न्यायमूर्ति धर्माधिकारी के अनुसार भवन का निर्माण 1939 में किया गया था। यह एक पुरानी और जर्जर स्थिति में है जो गिर जाएगी और इस तरह इसे ध्वस्त करने की आवश्यकता है। ट्रस्ट ने पाया कि किरायेदारों से उत्पन्न आय मरम्मत करने के लिए पर्याप्त नहीं होगी।


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram .

Tags :

Top