Blog single photo

'करतारपुर' को भारत की कमजोरी न समझे पाकिस्तान, कैप्टन ने इमरान खान को लगाई लताड़

करतारपुर कॉरिडोर (Kartarpur Corridor) को लेकर पाकिस्तान (Pakistan) के रेल मंत्री शेख रशीद (Sheikh Rashid) के बयान को लेकर पंजाब (Punjab) में भी राजनीति गरमा गई है।

कैप्टन अमरिंदर Captain Amrindar

Image Source Google

विशाल एंग्रीश, न्यूज 24 ब्यूरो, चंडीगढ़(2 दिसंबर): करतारपुर कॉरिडोर (Kartarpur Corridor) को लेकर पाकिस्तान (Pakistan) के रेल मंत्री शेख रशीद (Sheikh Rashid) के बयान को लेकर पंजाब (Punjab) में भी राजनीति गरमा गई है। पंजाब Punjab में कांग्रेस सरकार के मंत्रियों और खुद मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain amarinder singh) ने शेख रशीद (Sheikh Rashid) को लेकर पाकिस्तान (Pakistan) और इमरान खान (Imran Khan) को जहां एक और जमकर लताड़ लगाई तो वही विपक्षी अकाली दल ने भी इस मुद्दे पर पाकिस्तान (Pakistan) को जमकर घेरा और लगे हाथों खुद को इमरान खान (Imran Khan) का दोस्त बताने वाले नवजोत सिंह सिद्धू को भी निशाने पर लिया है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain amarinder singh)  की ओर से प्रेस नोट जारी करके पाकिस्तान (Pakistan Railway Minister) के रेलवे मिनिस्टर शेख रशीद  (Sheikh Rashid)  के उस बयान पर प्रतिक्रिया जारी की गई है, जिसमें शेख रशीद (Sheikh Rashid)  ने ये बयान दिया था कि करतारपुर कॉरिडोर (Kartarpur Corridor)  पाक आर्मी चीफ (Pakistan Army Chief) जनरल बाजवा के दिमाग की उपज है और आने वाले दिनों में ये भारत को सबसे बड़ी चोट पहुंचाएगा। शेख रशीद के इस बयान पर कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा है कि पाकिस्तान के मंत्री के इस बयान ने करतारपुर कॉरिडोर को लेकर पाकिस्तान की साजिश को पूरी तरह से बेनकाब कर दिया है। भारत को उम्मीद थी कि करतारपुर कॉरिडोर खुलने से दोनों देशों के बीच शांति बहाल होगी। 

इसे भी देखेंः करतारपुर कॉरिडोरः अमन नहीं, भारत के खिलाफ नफरत और हिंसा फैलाने की पाकिस्तानी साजिश

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि पाकिस्तान करतारपुर कॉरिडोर के जरिए भारत में कोई भी गलत हरकत करने की कोशिश ना करें और कॉरिडोर खुलने को भारत की कमजोरी ना समझे। भारत करतारपुर कॉरिडोर के माध्यम से पाकिस्तान को अपने मंसूबे कभी पूरे नहीं करने देगा। बतौर सिख मैं करतारपुर कॉरिडोर खुलने का स्वागत कर चुका हूं, लेकिन मैं पहले ही आशंका जता चुके हूं कि पाकिस्तान इस कॉरिडोर का इस्तेमाल अपनी साजिशों को अंजाम देने के लिए भी कर सकता है। ISI की तरफ से प्रायोजित रेफरेंडम 20-20 के एजेंडे को बढ़ावा देने के लिए पाकिस्तान सिखों के साथ इस तरह की हमदर्दी दिखा रहा है। ये पहले से ही साफ था कि करतारपुर कॉरिडोर को खोलने के पीछे जनरल बाजवा और पाक आर्मी की ही सोच है और बाजवा ने इमरान खान के शपथ ग्रहण समारोह के दौरान तत्कालीन पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को ये बात बता भी दी थी लेकिन उस वक्त तक तो इमरान खान सत्ता में आए भी नहीं थे और उनकी आर्मी चीफ सरकार से पहले ही ये बात कर रहे थे तो ये साफ है कि करतारपुर कॉरिडोर खोलने के पीछे की सोच जनरल बाजवा की ही है।

अमरिंदर सिंह ने कहा कि वह नवजोत सिंह सिद्धू को इमरान खान के साथ उनकी दोस्ती को लेकर सावधान रहने की सलाह भी देता हूं कि अगर पाकिस्तान की ये सोच है तो ये सोच भारत के लिए खतरनाक हो सकती है और नवजोत सिंह सिद्धू भी अपनी इमरान खान के साथ पर्सनल दोस्ती को लेकर सावधान रहें। इस मामले पर कैप्टन अमरिंदर सिंह की और से पंजाब के कैबिनेट मंत्री साधु सिंह धरमसोत ने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह ने जो कुछ कहा है वो पंजाब और देश के हित में कहा है और केंद्रीय एजेंसियों को भी अलर्ट रहने की जरूरत है, क्योंकि पाकिस्तान पर भरोसा नहीं किया जा सकता। साथ ही साधु सिंह धर्मसोत ने नवजोत सिंह सिद्धू को लेकर कहा कि उन्हें भी कैप्टन अमरिंदर सिंह की बातों पर गौर करना चाहिए और पाकिस्तान पर आंख बंद करके भरोसा नहीं करना चाहिए।

वहीं अकाली दल ने इस पूरे मामले पर कहा कि इमरान खान को अपने मंत्री के बयान को लेकर सफाई देनी चाहिए। अकाली दल के सीनियर लीडर बिक्रम सिंह मजीठिया ने कहा की शेख रशिद के बयान से सिखों की भावनाएं आहत हुई हैं और इमरान खान को तुरंत ही अपने मंत्री को बर्खास्त कर देना चाहिए। बिक्रम सिंह मजीठिया ने नवजोत सिंह सिद्धू पर भी निशाना साधते हुए कहा कि वो जिस तरह के बयान इमरान खान और पाकिस्तान के समर्थन में देते हैं। उससे ऐसे लगता है कि वो भारत में पाकिस्तान सरकार और इमरान खान के प्रवक्ता के तौर पर काम कर रहे हैं और नवजोत सिंह सिद्धू को भी शेख राशिद के इस बयान पर सफाई देनी चाहिए और अपने दोस्त इमरान खान से इस मुद्दे पर बात करनी चाहिए और जवाब तलब करना चाहिए। 

कैप्टन अमरिंदर सिंह इससे पहले भी कई बार ये बात कह चुके हैं कि पाकिस्तान के इरादे करतारपुर कॉरिडोर को खोलने के पीछे सिखों की आस्था की बजाय कुछ और ही हैं और अब पाकिस्तान के रेल मंत्री शेख राशिद ने करतारपुर कॉरिडोर को पाक आर्मी चीफ जनरल बाजवा की सोच की उपज और भारत को नुकसान पहुंचाने की बात कहकर कैप्टन अमरिंदर सिंह के उस दावे को पुख्ता कर दिया है। ऐसे में अब भारतीय सुरक्षा एजेंसियों को करतारपुर कॉरिडोर को लेकर और भी सतर्क रहने की जरूरत है।

Tags :

NEXT STORY
Top