News

बंगाल से लेकर दिल्ली तक डॉक्टरों की हड़ताल से मरीज परेशान, स्वास्थ्य सेवाएं ठप

पश्चिम बंगाल में एक जूनियर डॉक्टर के साथ हुई मारपीट का मामला लगातार तूल पकड़ता जा रहा है। इस घटना से मेडिकल एसोसिएशन में गुस्सा है, डॉक्टर हड़ताल पर चले गए हैं। पश्चिम बंगाल से लेकर दिल्ली तक के डॉक्टर हड़ताल कर रहे हैं

Doctor StrikeImage Credit: Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (15 जून): पश्चिम बंगाल में एक जूनियर डॉक्टर के साथ हुई मारपीट का मामला लगातार तूल पकड़ता जा रहा है। इस घटना से मेडिकल एसोसिएशन में गुस्सा है, डॉक्टर हड़ताल पर चले गए हैं।  पश्चिम बंगाल से लेकर दिल्ली तक के डॉक्टर हड़ताल कर रहे हैं। पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों के साथ हुए हिंसा के खिलाफ दिल्ली मेडिकल असोसिएशन और इंडियन मेडिकल असोसिएशन  ने भी समर्थन दिया और इसकी निंदा करते हुए 17 जून को देश व्यापी स्ट्राइक की घोषणा की है।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के 14 बड़े अस्पतालों समेत 18 अस्पतालों ने शनिवार को हड़ताल पर रहने का ऐलान किया है। इस हड़ताल में 10 हजार से ज्यादा डॉक्टर शामिल हो रहे हैं। फेडरेशन ऑफ रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन के बैनर तले इन सभी अस्पतालों के डॉक्टरों ने हड़ताल की पूर्व लिखित सूचना अपने मेडिकल सुपरिटेंडेंट को दे दी है। इन डॉक्टरों के हड़ताल में जाने से लोगों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। डॉक्टरों की हड़ताल की वजह से हिंदुस्तान के कई हिस्सों में स्वास्थ्य सेवाएं चरमरा गई है।

इस बीच पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों के लगातार इस्तीफा देने का सिलसिला भी जारी है। दार्जिलिंग के नॉर्थ बंगाल मेडिकल कॉलेज के दो डॉक्टरों ने राज्य में डॉक्टरों के खिलाफ हुई हिंसा को लेकर इस्तीफा दे दिया है। इस अस्पताल के अब तक कई डॉक्टर इस्तीफा दे चुके हैं। इसके अलावा कोलकाता के आरजी कर मेडिकल कॉलेज ऐंड हॉस्पिटल के 16 डॉक्टरों ने सामूहिक रूप से अपना इस्तीफा दे दिया है। अपने इस्तीफे में इन्होंने लिखा, 'राज्य में वर्तमान हालात को देखते हुए हम अपना काम करने में असमर्थ हैं, इसलिए अपने पद से इस्तीफा देते हैं।'

वहीं पश्चिम बंगाल में जूनियर डॉक्टरों की हड़ताल का आज पांचवां दिन है। हड़ताल कर रहे डॉक्टरों ने गुरुवार दोपहर दो बजे तक काम पर लौटने के मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के अल्टिमेटम को नहीं माना। डॉक्टरों की हड़ताल की वजह से कई सरकारी अस्पतालों और मेडिकल कॉलेजों में तीसरे दिन भी आपातकालीन वॉर्ड, ओपीडी सेवाएं, पैथलॉजिकल इकाइयां बंद रहीं। हड़ताली डॉक्टर कोलकाता के एनआरएस मेडिकल कॉलेज और अस्पताल में एक मरीज की मौत के बाद भीड़ द्वारा अपने दो सहकर्मियों पर हमले के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। मुख्यमंत्री के अलावा राज्यपाल केसरी नाथ त्रिपाठी भी डॉक्टरों से हड़ताल खत्म करने की अपील कर चुके हैं।


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top