News

बीजेपी में शामिल हुईं मशहूर बांग्लादेशी अभिनेत्री अंजू घोष

दुनिया की सबसे बड़ी सियासी पार्टी बीजेपी को अब विदेशी सदस्यों की तलाश है। क्या इसिलिए बीजेपी ने बांग्लादेशी अभिनेत्री अंजु घोष को पार्टी सदस्यता दिलाई है। लोकसभा चुनाव में टीएमसी के लिए जब बांग्लादेशी कलाकार प्रचार करने आए थे तब बीजेपी ने जमकर हंगामा किया था

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (6 जून): दुनिया की सबसे बड़ी सियासी पार्टी बीजेपी को अब विदेशी सदस्यों की तलाश है। क्या इसिलिए बीजेपी ने बांग्लादेशी अभिनेत्री अंजु घोष को पार्टी सदस्यता दिलाई है। लोकसभा चुनाव में टीएमसी के लिए जब बांग्लादेशी कलाकार प्रचार करने आए थे तब बीजेपी ने जमकर हंगामा किया था लेकिन आज खुद बांग्लादेशी कलाकार को पार्टी में शामिल कर अपनी पीठ थपथपाती नजर आ रही है। दरअसल बीजेपी ने एक सुपरहिट बांग्लादेशी अभिनेत्री अंजू घोष  को पार्टी की सदस्यता दिलाई। अंजु को बीजेपी का झंडा थमा। दिलीप घोष ने तालियां बजवाईं। अंजु घोष बांग्लादेश की सफलतम अभिनेत्रियों में शुमार रही हैं।

पश्चिम बंगाल के चुनाव में बांग्लादेश के दो फिल्मी सितारों 'टीएमसी के लिए प्रचार करते नजर आए ये स्टार थे फिरदौस और नूर। इन्होंने रायगंज संसदीय क्षेत्र से तृणमूल कांग्रेस उम्मीदवार कन्हैया लाल अग्रवाल के समर्थन में रोड शो किया।  और तृंणमूल के लिए वोट मांगते नजर आए। उस वक्त सियासी माहौल की गर्मी में तस्वीरें बीजेपी तक पुहंची तो चुनाव आयोग से शिकायत हो गई। प्रेस कांफ्रेस कर ममता बनर्जी के बांग्लादेशी प्रेम को लेकर निशाना साधा जाने लगा।  शिकायत के बाद आखिरकारचुनाव आयोग ने बांग्लादेशी फिल्म स्टार फिरदौस और नूर की वीजा शर्तों को लेकर राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी से रिपोर्ट मांगी। .फिर उन्हें वीजा शर्तों के उल्लंघन का आरोप लगा कर तुरंत देश छोड़ने के आदेश दे दिए गए।

बीजेपी ने उस दौरान छाती पीट पीट कर बांग्लादेशी कलाकारों का विरोध किया था, लेकिन अब वही बीजेपी एक बांग्लदेशी एक्टर को पार्टी की सदस्यता दिला कर खुश है तो लोग सवाल पूछ रहे हैं। लोग पूछ रहे हैं कि देशी बीजेपी को एक विदेशी के सदस्यता दिलाने की क्या जरुरत थी। सवाल उठना लाजमी था..सवाल उठे भी पर जवाब में सिर्फ अंजू घोष की खामोशी थी। हालांकि सूत्रों से जानकारी जुटाई गई तो पता चला कि अंजू पिछले करीब 25 सालों से कोलकाता के सॉल्ट लेक इलाके में रहतीं हैं। उनके पास भारतीय पासपोर्ट और वोटर आईडी भी है और उन्होनें हाल की के चुनाव में मतदान भी किया है। ये सारी बातें एक तरफ लेकिन नागरिकता का सवाल तकनीकि के साथ साथ सैद्धांतिक भी है और  राष्ट्रवाद के घोड़े पर सवार बीजेपी को ये सवाल आगे भी परेशान करेगा ये भी तय है।


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top