News

बीजेपी विधायक का कारनामा, स्कूल में छात्रों को दिलाई पार्टी की सदस्यता

बीजेपी विधायक ने शिक्षा के मंदिर में छात्रों को पार्टी की सदस्यता दिलाने का कारनामा सामने आया है। पूरा मामला नेशनल इंटर कॉलेज सेयदराजा में हुआ।

CHANDOLI

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली(17 जुलाई): बीजेपी विधायक का शिक्षा के मंदिर में छात्रों को पार्टी की सदस्यता दिलाने का कारनामा सामने आया है। पूरा मामला नेशनल इंटर कॉलेज सैयदराजा में हुआ, जहां मंगलवार को बीजेपी विधायक सुशील सिंह ने पढ़ाई अवधि में छात्रों को भाजपा की सदस्यता दिला दी। करीब एक घंटा विधायक की राजनीतिक क्लास चली, शिक्षक और छात्रों ने भाजपा का पट्टा ओढ़ा और पार्टी की नीतियों व रीतियों पर चलने का संकल्प लिया। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर खूब तेजी से वायरल हो रहा है, जो इस समय लोगों के बीच चर्चा का केंद्र बना है।

इंटर कालेजों में पठन-पाठन की अवधि सुबह 7.30 से 12.50 तक तय है। वाकया कुछ इस प्रकार रहा कि कालेज में कक्षाएं चल रही थीं। इसी बीच दोपहर 12.10 बजे विधायक अपने लाव लश्कर के साथ स्कूल परिसर में पहुंचे और प्रधानाचार्य से एक कक्ष मांगा। विधायक की आवभगत कर उन्होंने तत्काल कक्ष संख्या सात को उनके कार्यक्रम के लिए व्यवस्थित करा दिया। इसमें कक्षा नौ से 12 तक के  एक सौ से अधिक छात्र-छात्राओं को एकत्र कराया गया। 

इसके बाद विधायक ने राजनीति शुरू कर दी। छात्रों को भाजपा के बारे में जानकारी दी, उनकी नीतियों, रीतियों को समझाया और अंत में पट्टा पहनाकर पार्टी का सदस्य भी बना डाला। शिक्षा के मंदिर में पठन-पाठन के दौरान इस तरह के कार्यक्रम का होना जनमानस के बीच जहां चर्चा का विषय बना, वहीं सत्ता पक्ष के लोग इसे अपने मानदंडों पर सही करार दे रहे हैं।

वहीं विधायक सुशील सिंह का कहना है कि उन्होंन किसी भी नियम का उल्लंघन नहीं किया है। उन्होंने कहा  छात्रों की छुट्टी हो चुकी थी। 12.30 बजे वे पहुंचे, छात्र स्वत: एकत्र हुए थे और भाजपा से जुडऩा चाह रहे थे। उनसे सवाल भी किया गया कि क्यों भाजपा से जुडऩा चाहते हैं तो उन्होंने कहा देश सेवा के लिए।

वहीं डीआईओएस डॉ. विनोद राय ने कहा है, अगर ऐसा हुआ है तो यह नियम के विरुद्ध है,  प्रधानाचार्य अनिल सिंह से पूछा कि स्कूल समय में यह कार्यक्रम कैसे हुआ। उनका जवाब था कि विधायक आए उन्होंने उन्हें पट्टा ओढ़ा दिया। वे क्या कर सकते थे। वैसे जो यह कार्यक्रम हुआ वह नियम के बिल्कुल विरुद्ध था। स्कूल समय में ऐसे कार्यक्रम नहीं होने चाहिए। प्रधानाचार्य से इसका स्पष्टीकरण मांगा जाएगा।


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top