News

दंगा कराना चाहते थे आतंकी, NIA ने किया अरेस्ट

हैदराबाद (29 जून):

हैदराबाद में खूंखार आतंकी संगठन ISIS के लिंक को लेकर NIA ने ताबड़तोड़ छापेमारी की। एजेंसी ने इस दौरान 5 युवकों को गिरफ्तार किया है, जबकि 6 को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। एजेंसी ने कुल नौ जगहों पर छापेमारी की है। इनके पास से बड़े पैमाने पर हथियार बरामद किए हैं। इन सभी की उम्र सभी की उम्र 20 साल के करीब है। सूत्रों के मुताबिक एक बड़े हमले की तैयारी थी।

शहर के करीब 9 जगहों पर एनआईए की टीम ने स्थानीय पुलिस के साथ मिलकर छापेमारी की है। सुरक्षा एजेसिंयों के मुताबिक इस छापेमारी में इन 11 युवकों के पास से 15 लाख रुपये, 25 मोबाइल फोन, एक एयरगन, एयरगन की ट्रेनिंग के लिए टारगेट, बम बनाने के लिए नट बोल्ट, नाइट्रेट कैमिकल और IED की बरामदगी हुई है। सूत्र बताते हैं कि NIA को शक है कि इन सभी के संपर्क सफी आरमार और जुनूद उल खलीफा उल हिंद से हैं, जिनका संपर्क ISIS से हो सकता है। यानि जांच एजेंसियों ने एक बड़े म्यूड्यूल को ध्वस्त किया है जो बड़े हमले की साज़िश को अंजाम दे सकता था।

हिरासत और गिरफ्तारी के बाद एनआईए से जुड़े सूत्रों का कहना है कि ISIS के लोग हैदराबाद में कई जगहों पर धमाके की फिराक में थे। उनकी पहली कोशिश सांप्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने और दंगा करवाने की थी। यही नहीं आतंकी संगठन के निशाने पर हैदराबाद और उसके बाहर शॉपिंग मॉल, धार्मिक स्थल भी थे। NIA की छापेमारी में जिस मात्रा में हथियार और गोला-बारूद बरामद हुए हैं, उसे किसी भी बड़े प्लान को एग्जीक्यूट करने के लिए पर्याप्त माना जा रहा है। सूत्रों के मुताबिक ये ग्रुप पिछले कई महीनों से एक्टिव था और इस ग्रुप से जुड़ा हर शख्स एक दूसरे से कोडवर्ड में बात करता था। बातचीत के लिए ये टेलीग्राम और मैसेंजर का इस्तेमाल करते थे।

सूत्रों के मुताबिक ये नया मोड्य़ूल था जिसे सीरिया के बेस्ड पर बनाया था, जिसका मकसद इंडिया में लोन वूल्फ अटैक करवाना था। बताया जा रहा है कि इस ग्रुप में सात ऐसे हैं जो हमले को अंजाम दे सकते थे और 4 लॉजिस्टिक सपोर्टर थे, यानि हमले के लिए बंदोबस्त करना। खुफिया एजेंसियां अब इन सभी लोगों से पूछ-ताछ कर रही हैं। NIA ये जानने में जुटी है कि कहीं ये लोग IS के उसी मोड्यूल का हिस्सा तो नहीं हैं जिसे इसी साल जनवरी में ध्वस्त किया गया था, जिसे मुदस्सिर शैख ऑपरेट कर रहा था या फिर कोई और हैंडलर है जो हिंदुस्तान में इन लोगों के संपर्क में है।

आपको बता दें कि इसी साल NIA ने 25 लोगों को पकड़ा था जिन का संपर्क IS से बताया जा हा था। NIA ने इस मामले में 22 जून को ही एक FIR दर्ज की थी, जिसके तहत ये गिरफ्तारियां हुई हैं जांच एजेंसी ने UAPA, 121A, 122 और विस्फोटक पदार्थ अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है। एफआईआर में मो. इलियास यजदी (अमान नगर, हैदराबाद), मोहम्मद इब्राहिम यजदी (अमान नगर), हबीब बरकस, मो. इरफान (चट्टा बाजार) और अब्दुल्ला बिन अहमद अलमुद्दीन उर्फ फहद (चार मीनार) के नाम शामिल हैं।

NIA कुछ और जगहों पर छापेमारी की तैयारी भी कर रही है। सूत्रों के मुताबिक कुछ और लोग इन लोगों के संपर्क में हो सकते हैं। हम आपको बता दें कि NIA पिछले 10 दिनों से इन लोगों पर निगाह बनाए हुए थी।

वीडियो:

[embed]https://www.youtube.com/watch?v=KYFATBxfOyo[/embed]


Related Story

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top