News

संपन्न परिवार से संपर्क रखता हैं शरजील, पिता रहे हैं कद्दावर नेता

आखिरकार देश को बाटंने के ख्वाब देखने वाला शरजील इमाम गिरफ्तार हो ही गया। महज एक भाषण से हिंदुस्तान की सियासत में कोहराम मचाने वाले शरजील को लेकर हर कोई जानना चाहता है कि आखिर कौन है शरजील? शरजील के दिमाग में चल क्या रहा है?

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (29 जनवरी): आखिरकार देश को बाटंने के ख्वाब देखने वाला शरजील इमाम (Sharjeel Imam) गिरफ्तार हो ही गया। महज एक भाषण से हिंदुस्तान की सियासत में कोहराम मचाने वाले शरजील को लेकर हर कोई जानना चाहता है कि आखिर कौन है शरजील? शरजील के दिमाग में चल क्या रहा है? क्योंकि जिस दिन से शरजील ने ये देशविरोधी बयान दिया था, उसी दिन से देश में शरजील पर सर्जिकल स्ट्राइक शुरु हो गई थी। हालांकि बिहार के जहानाबाद से दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने शरजील को गिरफ्तार किया है, जो शरजील पिछले कई दिनों से पुलिस को चकमा दे रहा था।

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच और बिहार पुलिस ने मंगलवार दोपहर में गिरफ्तार किया। रिपोर्ट के मुताबिक शरजील की गिरफ्तारी से पहले दिल्ली पुलिस ने उसके छोटे भाई मुजम्मिल और शरजिल के दोस्त को हिरासत में लिया था। शरजील के भाई से पूछताछ से मिली लीड के आधार पर दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच और बिहार पुलिस ने इस ऑपरेशन को अंजाम दिया, इसके बाद शरजील इमाम की गिरफ्तारी की गई। इसी बीच शरजील के वकील ने ये दावा किया कि शरजील ने पुलिस के सामने सरेंडर किया है, उसे गिरफ्तार नहीं किया गया। लेकिन दिल्ली पुलिस ने शरजील इमाम के वकील द्वारा किए गए आत्मसमर्पण के दावे का खंडन किया है। दिल्ली पुलिस ने कहा कि पुलिस के सामने आत्मसमर्पण करने की कोई प्रक्रिया नहीं हुई है। यदि कोई आरोपी सरेंडर करना चाहता तो कोर्ट के सामने सरेंडर किया जाता है, ना कि पुलिस के सामने। शरजील को गिरफ्तार करने के बाद पूछताछ के लिए उसे काको थाना ले जाया गया।

शरजीन इमाम जहानाबाद के काको का रहने वाला है। शरजील पर आरोप हैं कि उसने उत्तरपूर्व को देश के दूसरे हिस्सों से जोड़ने वाला एकमात्र गलियारा यानि सिलीगुड़ी कॉरिडोर (चिकेन्स नेक) को ठप्प करने के लिए लोगों को भड़काया था, बल्कि पूरे देश में अराजकता का माहौल पैदा करने के लिए लोगों को उकसाया था। उसने जामिया, जेएनयू और शाहीन बाग़ से लेकर कोलकाता तक भड़काऊ बयान दिया था। इन बयानों के बाद शरजील पर दिल्ली में शरजील पर देशद्रोह का मामला दर्ज किया गया। अलीगढ़ पुलिस को भी शरजील की तलाश थी। उसपर अरुणाचल प्रदेश में भी शरजील पर मामला दर्ज किया गया। असम और मणिपुर में भी शरजील के खिलाफ केस दर्ज किया गया।

5 राज्यों में शरजील पर मामला दर्ज होने के बाद से ही बिहार के जहांनाबाद में शरजील के पैतृक गांव काको में पुलिस लगातार छापेमारी कर रही थी। हालांकि, शरजील की मां ने पुलिस पर बेवजह परेशान करृने का आरोप लगाया है। शरजील की मां ने कहा है कि पुलिस शरजील के नाम पर पूरे परिवार को प्रताड़ित कर रही है। दरअसल, शरजील इमाम को दिल्ली के शाहीन बाग में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन का सूत्रधार माना जा रहा है, लेकिन सूर्खियों में वो तब आया जब 16 जनवरी को एएमयू में ‘भारत के टुकड़े’ वाला भड़काऊ दिया था।

- शरजील इमाम फिलहाल जेएनयू में सेंटर फॉर हिस्टोरिकल स्टडीज में रिसर्च कर रहा है

- आईआईटी मुंबई से कंम्प्यूटर साइंस में ग्रेजुएट है शरजील

- IIT यूनिवर्सिटी, कोपेनहेगन में प्रोग्रामर और IIT मुंबई में बतौर टीचिंग असिस्टेंट काम भी कर चुका है शरजील इमाम

- सेंट जेवियर स्कूल, पटना और दिल्ली पब्लिक स्कूल, वसंत कूंज से हुई है शरजील की स्कूली शिक्षा

यह भी पढ़ें: पुलिस से बचने के लिए यहां छिपा था शरजील, अब लाया जा रहा है दिल्ली

इतना ही नहीं शरजील का पारिवारिक बैकग्राउंड भी काफी बेहतर है...

- शरजील के पिता अकबर इमाम जदयू के कद्दावर नेता रहे हैं।

- 2005 के बिहार विधानसभा चुनाव में अकबर इमाम जहानाबाद से जदयू के टिकट पर चुनाव भी लड़ चुके हैं, लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा था।

- सियासत में अकबर इमाम एक जाना-पहचाना चेहरा माने जाते थे।

- पिता की मौत के बाद अब शरजिल का भाई मुजम्मिल स्थानीय राजनीति में एक्टिव है।

- चाचा अरशद इमाम भी जदयू का प्रखंड स्तर के नेता हैं।

सोशल मीडिया में शरजील को लेकर ये चर्चा जोरों पर है कि आखिर इतने बेहतरीन एकेडमिक बैकग्राउंड वाले शरजील इस तरह की बयानबाजी क्यों कर रहा है। एक तरफ जहां शरजिल की तलाश दिल्ली पुलिस की पांच टीमों राज्यों में खाक छान रही थी, वहीं जेएनयू ने शरजिल के खिलाफ प्रॉक्टिअल आदेश भी जारी रखा था। जिसमें शरजील को 3 फरवरी तक जेएनयू में प्रॉक्टर के सामने पेश होने के लिए कहा गया था, लेकिन इसी बीच जेएनयू में सोमवार की रात गंगा ढाबा से साबरमती ढाबा तक शरजील के समर्थन में मार्च भी निकाला गया। जेएनयू के कुछ छात्रों की मांग है कि शरजील इमाम पर लगे सारे केस वापस लिए जाए।

बहरहाल, शरजील इमाम अब पुलिस की गिरफ्त में आ चुका है। पुलिस अब ये खंगालने में जुट गई है कि शरजील का कनेक्शन कहां-कहां है, लेकिन जिस तरीके से शरजील लगातार मुल्क को बांटने वाली बातें करता रहा, उससे साफ है कि भले ही शरजील के पास डिग्रियों की भरमार हो। वो एक अच्छा स्कॉलर हो लेकिन एक अच्छा नागरिक बनना उसे अभी सीखना होगा।


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top