News

गौरी ने शेयर की शाहरुख के साथ रोमांटिक तस्वीर, देखिए शादी और हनीमून की तस्वीरें

मुंबई ( 12 जून ) गौरी खान  ने अपनी और शाहरुख की एक तस्वीर इंस्टाग्राम पर शेयर की है। इस तस्वीर में शाहरुख और गौरी दोनों ही रोमांटिक पोज में है और बहुत खूबसूरत दिख रहे हैं।  आपको बता दे कि रोमांस किंग शाहरुख जितने रोमांटिक फिल्मों में दिखते हैउतने ही असल जिंदगी में भी है।  फिल्मी परदे पर प्यार को पाने के लिए कुछ भी कर गुजरने वाले शाहरुख असल जिंदगी में भी कुछ उन्ही राहों से गुजर चुके है।

शाहरुख और गौरी की शादी को 26  साल बीत चुके है। लेकिन इनकी लवस्टोरी बदस्तूर जारी है.और इनकी लव स्टोरी किसी ब्लॉकबस्टर फिल्म से कम नहीं है। शाहरुख ने पहली बार देखा था.गौरी को और उन्हें पहली ही नजर में गौरी से प्यार हो गया था। तब गौरी दिल्ली के पंचशील पार्क में रहती थीं और शाहरुख हौजखास मे। उस दौरान शाहरुख बहुत दुबले-पतले थे ....गौरी ने उन्हें एक प्ले में भी देखा था....लेकिन उस वक्त तक शाहरुख गौरी के दिल पर दस्तक नहीं दे पाए थे। तो शाहरुख गौरी के प्यार में रांझणा हुए जा रहे थे। जितनी बार वो गौरी को देखते उनके दीवाने होते चले गए । फिल्मी परदे पर रोमांस को यादगार बनाने वाले शाहरुख डेढ़ सालों तक गौरी को प्रपोज करने की हिम्मत नहीं जुटा पाए।

इस मामले में पहल भी गौरी को ही करनी पड़ी। गौरी की पहल पर शाहरुख की थोड़ी हिम्मत बढ़ी .और एक दिन गौरी को शाहरुख जब उनके घर ड्रॉप करने गए तो वहीं अपने दिल का हाल कह डाला....शाहरुख ने कहां, 'आई लव यू गौरी. एक दिन तुमसे शादी जरूर करूंगा' लेकिन शाहरुख उस वक्त इस कदर डर गए थे कि गौरी का जवाब सुनने के पहले ही वहां से भाग खड़े हुए....और गौरी उनके पीछे हंसती रह गई। शाहरुख ने अपनी लव स्टोरी की पहली मंजिल तो पा ली थी ....लेकिन उनके सामने चुनौतियां कई थी।

उस दौरान शाहरुख बेरोजगार थे, स्टेज प्ले करते थे और ऊपर से उनका मजहब भी अलग था। ऐसे में गौरी के लिए आसान नहीं था अपने ट्रेडिशनल पंजाबी परिवार को शाहरुख शे शादी के लिए राजी करना। शाहरुख गौरी की लव स्टोरी में सबसे बड़ी लड़ाई रिलीजन साबित हो रही थी। पंजाबी और टोटल वेजिटेरियन ब्राहमण फेमिली को बिलांग करने वाली गौरी के पेरेंटस को कन्विंस करना लोहे के चने चबाने जैसा था।

शाहरुख और गौरी की लव स्टोरी में कायदे कानून अलग थे। गौरी को किसी और लड़के से बात करने की सख्त मनाही थी। शाहरुख को ये पसंद नहीं था उनके साथ रहते गौरी किसी और से बात करे. एक बार तो गौरी की एक दोस्त के ब्वायफ्रेंड को इसलिए पीट दिया, क्योंकि वो गौरी से मिलने घर गया था. शाहरुख तब कहते थे..मैं ये नहीं कहता था, कि मेरे साथ बैठो, बस दूसरों के साथ मत बैठो. शाहरुख से शादी को लेकर उलझन और उनके पोसेसिव नेचर से परेशान होकर एक बार गौरी अपनी कुछ फ्रेंडस के साथ मुंबई चली आईं. लेकिन उन्हें क्या पता था कि वो जो कदम शाहरुख से दूर आने के लिए उठा रही है वही इस लव स्टोरी का फाइनल मूव साबित होगा। शाहरुख को जब पता चला कि गौरी मुंबई चली गई हैं तो उन्होंने अपनी मां को ये बात बताई। दीवाने शाहरुख को इस मामले में मां का पूरा सर्पोट हांसिल था. उनकी लव स्टोंरी सुन कर शाहरुख की मां ने उन्हें  10,000 रुपये दिए और प्यार वापस लाने का हौंसला भी।

अपनी फैमली में शाहरुख को एंट्री दिलाने के लिए पहले गौरी ने उन्हें हिंदू बताया था और गौरी के परिवार को शाहरुख ने अपना नाम अभिनव बताया था। गौरी के घरवालों से घुलने मिलने की कोशिश में शाहरुख ने गौरी के सख्त मिजाज वाले अंकल को भी दोस्त बना लिया था और वो भी पहली ही मुलाकात । धीरे धीरे  शाहरुख ने गौरी के हर रिटेलिव से नजदीकी बना ली। यहां तक कि गौरी के परिवार के नौजवान लोगों का  दिल जीतने के लिए कई बार उन्हें डिस्को ले जाते. लेकिन गौरी के मम्मी पापा को राजी करना टेढी खीर साबित हो रहा था। शाहरुख ने कुछ उसी अंदाज में गौरी के घरवालों का दिल जीतने की कोशिश की थी जैसे उन्होंने फिल्म दिलवाले में काजोल के परिवार वालों को पटाया था। लेकिन जैसी ही गौरी के घरवालों को पता चला कि उनका ब्रायफ्रेंड मुस्लिम है....घर में हंगामा मच गया।

शाहरुख से शादी की बात पर गौरी की मां तो सुसाइड तक की धमकी दे चुकी थी. आखिर गौरी के पिता ने भी शाहरुख को फोनकर बता दिया ये शादी कतई नहीं हो सकती। शाहरुख उस दौरान परेशानी से घिरे हुए थे। एक तरफ गौरी से उनकी शादी मुश्किल में घिर आई थी....तो दूसरी तरफ बॉलीवुड में उन्हें काफी स्ट्रगल करना पड़ रहा था। शाहरुख ठान चुके थे कि फिल्म इंडस्ट्री में उन्हें पांव जमाना हैं। गौरी अपने परिवार वालों के खिलाफ जाकर शाहरुख से शादी के फैसले पर अड़ी रही। आखिरकार गौरी के मम्मी पापा मां गए। 25 अक्टूबर 1991 को शाहरुख और गौरी की शादी हुई।

शाहरुख उस दौरान फिल्मों की शूटिंग में बहुत बिजी थे उस वक्त शाहरुख के पास हनीमून पर जाने का भी वक्त नहीं था। .शादी के बाद वो गौरी को लेकर मुंबई गए...मुंबई में उनके पास अपना घर नहीं था। 6 महीनों तक वो फिल्म राजू बन गया जेंटलमैंन के डायरेक्टर अजीज मिर्जा के घर रहे। तब शाहरुख कई फिल्मों की शूटिंग एक साथ कर रहे थे और उनके पास हनीमून पर जाने की भी फुरस्त नही थी। फिल्म राजू बन गया जेंटलमैन का एक गाना दार्जिलिंग में शूट होना था....और शाहरुख गौरी को घूमने के लिए दार्जिलिंग ले गए। लेकिन वहां भी शाहरुख शूटिंग में ही बिजी रहे।

शुरूआती दिनों में शाहरुख और गौरी किराए के मकान में रहे...बॉलीवुड में आज शाहरुख जिस मकाम पर है वहां तक आने के लिए उन्होंने तीन तीन शिफ्ट में काम किया है.27  साल के फिल्मी करियर में शाहरुख खान ने 30 से ज्यादा सुपर हिट फिल्में दी। .शाहरुख अगर आज बॉलीवुड के किंग है तो वाइफ गौरी को क्वीन का दर्जा मिला हुआ है। शाहरुख और गौरी की शादी को 26 साल बीत चुके है.... मुंबई के ब्रांन्द्रा इलाके में एक आलीशान बंगले में गौरी के साथ रहते हैं।

शाहरुख के बंगले मन्नत में मजहब की कोई दीवार नहीं है। यहां इंसानियत सबसे बड़ा धर्म है। शाहरुख ने अपने बच्चों के हिंदू नाम रखे है उनके मन्नत में दीवाली भी मनाई जाती है और ईद भी। दीवाली पर दीए जलते हैं और पूजा होती है तो ईद पर सेवईयां बनती है।


Related Story

Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top