News

पीएम मोदी ने किया खुलासा, क्यों चमकता है उनका चेहरा ?

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज 'प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार 2020' के 49 बाल विजेताओं (Winners) के साथ बातचीत की। इस दौरान पीएम मोदी ने अपने चेहरे पर तेज का राज खोला। उन्होंने बच्चों से कहा कि 'मैं अपने शरीर से निकलने वाले पसीने से चेहरे की मालिश करता हूं। इसलिए मेरा चेहरा चमकता है।'

PM Modi

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (24 जनवरी): प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Modi) ने आज 'प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार 2020' (Rashtriya Bal Puraskar) के 49 बाल विजेताओं (Winners) के साथ बातचीत (Interact) की। इस दौरान पीएम मोदी ने अपने चेहरे पर तेज का राज खोला। उन्होंने बच्चों से कहा कि 'मैं अपने शरीर से निकलने वाले पसीने से चेहरे की मालिश करता हूं। इसलिए मेरा चेहरा चमकता है।' एक संदर्भ का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने बच्चों से कहा कि एक दिन किसी ने उनसे पूछा कि 'आपके चेहरे पर इतना तेज कैसे है? इसपर मैंने कहा 'मेरे शरीर से बहुत पसीना निकलता है और मैं उसे चेहरे पर मल लेता हूं। इसी से मेरे चेहरे पर तेज दिखता है।'

 

पुरस्कार पाने वाले बच्चों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि कम आयु में जिस प्रकार से आप सभी ने अलग-अलग क्षेत्रों में कुछ ना कुछ करके दिखाया है। उससे मैं हैरान हूं। बच्चों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि आपने जो काम किया है, उसको करने की बात तो छोड़ दीजिए, उसे सोचने में भी बड़े-बड़े लोगों के पसीने छूट जाते हैं। उन्होंने कहा कि ये सारे अवॉर्ड्स आखिरी मुकाम नहीं हैं, यह एक प्रकार से जिंदगी की शुरुआत है। आपने मुश्किल परिस्थितियों से लड़ने का साहस दिखकर कमाल किया है। प्रधानमंत्री ने कहा कि ज्यादातर हम अधिकार पर बल देते हैं लेकिन मैंने लाल किले से कहा था कि कर्तव्य पर बल देने की जरूरत है। आप अपने समाज के प्रति, राष्ट्र के प्रति अपनी ड्यूटी के लिए जिस प्रकार से जागरूक हैं, ये देखकर गर्व होता है।

PM Modi

आप युवा साथियों के साहसिक कार्यों के बार में जब भी मैं सुनता हूं तो मुझे भी प्रेरणा मिलती है। आप जैसे बच्चों के भीतर छिपी प्रतिभा को प्रोत्साहित करने के लिए ही इन राष्ट्रीय पुरस्कारों का दायरा बढ़ाने का काम किया गया है। बच्चों से बात करते हुए पीएम ने कई अपनी बातें भी बताईं। इसी क्रम में उन्होंने कहा कि किसी ने क्या उन्हें मां की याद नहीं आती है? इसपर पीएम ने जवाब दिया, 'जब याद करता हूं तो सारा थकान उतर जाता है।' उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय पुरस्कारों के दायरे को बढ़ाया गया है। ये पुरस्कार पाए बच्चों पर देशभर का ध्यान जाता है। आप सब उनके हीरो बन जाते हैं।'

यह भी पढ़ें : गणतंत्र दिवस पर टूटेगी एक परंपरा, देखें इस बार क्या करेंगे पीएम मोदी ?

पीएम ने इस दौरान बच्चों को 2 सीख भी दी। उन्होंने कहा कि जब कुछ पा लें तो अपने लक्ष्य से भटके नहीं और अवसर को आगे भुनाते रहें। दूसरा मेहनत करने से बिल्कुल भी न घबराएं। उन्होंने बच्चों से पूछा भी कि दिनभर में किसे कितनी बार पसीना आता है। इस दौरान उन्होंने बच्चों से ठिठोली भी की। 


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top