News

'केवल वित्त मंत्रालय के भरोसे नहीं छोड़ सकते अर्थव्यवस्था को सुधारने की कवायद'

भारतीय अर्थव्यवस्था पर संकट के बादल छाए हुए हैं। आशंका जताई जा रही है देश में आर्थिक मंदी दस्तक देने वाली है। अर्थव्यवस्था को संकट से निकालने के लिए हाल ही में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अलग-अलग सेक्टर के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की है।

Nirmla sitaraman

मनीष कुमार, न्यूज24 ब्यूरो, नई दिल्ली (23 अगस्त):  भारतीय अर्थव्यवस्था पर संकट के बादल छाए हुए हैं। आशंका जताई जा रही है देश में आर्थिक मंदी दस्तक देने वाली है। अर्थव्यवस्था को संकट से निकालने के लिए हाल ही में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अलग-अलग सेक्टर के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की है। माना जा रहा है कि जल्दी वित्त मंत्रालय अर्थव्यवस्था को रफ्तार देने के लिए स्टिमुलस पैकेज का ऐलान करने वाला है इस सबके बीच प्रधानमंत्री आर्थिक सलाहकार समिति की सदस्य शमिका रवि ने वित्त मंत्रालय पर निशाना साधा है शमी का रवि ने ट्वीट कर कहा अर्थव्यवस्था की हालत सुधारने का भार केवल वित्त मंत्रालय पर नहीं छोड़ा जा सकता।

शमिका रवि ने अपनी ट्वीट में आगे लिखा कि अर्थव्यवस्था को गति देने का का भार केवल वित्त मंत्रालय पर छोड़ने का मतलब होगा कि किसी कंपनी को चलाने की जिम्मेदारी एकाउंट्स डिपार्टमेंट पर छोड़ना। शामिका रवि का यह ट्वीट काफी मायने रखता है क्योंकि वह प्रधानमंत्री आर्थिक सलाहकार समिति की सदस्य हैं। शमिका रवि के ट्वीट से अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए उठाए जा रहे कदमों को लेकर वित्त मंत्रालय और प्रधानमंत्री आर्थिक सलाहकार समिति के बीच गतिरोध नजर आता है।


Top