News

बीजेपी से गठबंधन के बाद बोलो उद्धव, महाराष्ट्र में देखना चाहता हूं शिवसेना का सीएम

लोकसभा चुनाव के पहले शिवसेना को बीजेपी के बदलाव में नजर आ रहा है और उद्धव ठाकरे ने बीजेपी के साथ मिलकर महाराष्ट्र में लोकसभा चुनाव लड़ने का ऐलान किया है

Image Credit: Google

दीपक दुबे, न्यूज 24, मुंबई (20 फरवरी): लोकसभा चुनाव के पहले शिवसेना को बीजेपी के बदलाव में नजर आ रहा है और उद्धव ठाकरे ने बीजेपी के साथ मिलकर महाराष्ट्र में लोकसभा चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे का कहना है कि 'मैंने महसूस किया कि लोगों के प्रति उनके व्यवहार में बदलाव आया है, इसलिए मैंने बीजेपी से हाथ मिलाने का फैसला लिया।' हालांकि बीजेपी के उस प्रस्ताव को लेकर उनके मन में अभी भी संशय है जिसमें कहा गया है कि महाराष्ट्र में जिस पार्टी के ज्यादा विधायक होंगे मुख्यमंत्री उसका होगा। उद्धव ठाकरे का कहना है कि, 'मैं शिवसेना का मुख्यमंत्री देखना चाहता हूं और मैं इसके लिए काम करूंगा।' ठाकरे ने कहा कि समझौते में मैं जीत चुका हूं और अब असल लड़ाई, चुनाव जीतना है।

सोमवार को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे के बीच एक घंटे से ज्यादा समय तक मीटिंग हुई। इस बैठक के बाद मीडिया से रूबरू हुए। इस दौरान महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि दोनों पार्टियां एकसाथ मिलकर चुनाव लड़ेगी। लोकसभा में बीजेपी 25 और शिवसेना 23 सीटों पर और विधानसभा में आधे-आधे सीटों पर लड़ने का निर्णय लिया है। लेकिन मुख्यमंत्री कौन होगा यह स्पष्ट नहीं किया।

इसके बाद मंगलवार को उद्धव ठाकरे ने कहा महाराष्ट्र का मुख्यमंत्री तो शिवसेना का ही होगा। बीजेपी के साथ गठबंधन पर मुहर के बाद पहली वार अपने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा कि राज्य में अगला मुख्यमंत्री शिवसेना का ही होगा। उन्होंने का कि हमने जो कल निर्णय लिया वो आप सभा को मान्य होगा ये मैं अपेक्षा रखता हूं।  उन्होंने कहा कि देश में दो राजनीतिक माहौल है, उसमें सभी पार्टियां किसी ना किसी के साथ होकर चुनाव के मैदान में उतरी है। ऐसे में हमारा अलग रहकर राजनीति करना सही नहीं होगा। हमारी ताकत कुछ कम नहीं है। हम अकेले भी जाते तो जीत हमारी ही होती। लेकिन एक शब्द का मैंने कल इस्तेमाल किया था वो है कि अगर अविचारी लोग एक हो सकते है तो समविचारी लोग क्यूं नहीं एक हो सकते।

साथ ही उन्होंने इसबात को जोर देकर कहा कि पिछले चार साल का अनुभव का हमारा बीजेपी के साथ का अनुमान और पिछले कुछ दिनों का अनुभव में मैंने बीजेपी के नेताओं में बदलाव महसूस किया। उन्होंने कहा कि कल मुख्यमंत्री ने कहा कि एक समान सीटें और एक समान ज़िम्मेदारी और अधिकारी का बंटवारा दोनों पार्टियों के बीच होगा। मैंने समानताएं लाई है। हमारे गठबंधन में होता था कि जिसकी ज़्यादा सीटें उसका मुख्यमंत्री। ये मैंने स्वीकार नहीं किया है। हमारा जो सपना था राज्य में शिवसेना का मुख्यमंत्री होना वो पूरा होकर रहेगा।


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top