News

कैलाश विजयवर्गीय के पोहा vs ओवैसी का हलवा की सियासत

बीजेपी (Bjp) सांसद कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) के पोहा पर दिए बयान पर सियासी बवाल होना शुरू हो गया है। कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) के पोहा वाले बयान पर सबसे पहले आईएमआईएम सांसद (Aimim Mp) असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने पलटवार किया है।

Political News, पॉलिटिकल न्यूज

Image Source Google

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली, (24 जनवरी): बीजेपी (Bjp) सांसद कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) के पोहा पर दिए बयान पर सियासी बवाल होना शुरू हो गया है। कैलाश विजयवर्गीय (Kailash Vijayvargiya) के पोहा वाले बयान पर सबसे पहले आईएमआईएम सांसद (Aimim Mp) असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने पलटवार किया है। उन्होंने कैलाश विजयवर्गीय Asaduddin Owaisi पर हमला करते हुए कहा है कि मजदूरों को पोहा नहीं हलवा खाना चाहिए। हलवा खाने वाले भारतीय और भारत के शहरी कहलाएंगे। अब आपके मन में सवाल होगा कि ओवैसी हलवा खाने की के बात क्यों कह रहे हैं? दरअसल वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने हलवा सेरेमनी पर ओवैसी का एक बयान सामने आया था, जिसमें उन्होंने कहा था, बीजेपी के नेता नाम बदलने की कवायद करते हैं और बीजेपी की वित्त मंत्री हलवा के आगे नमस्ते कर रही हैं। ओवैसी ने तंज कसते हुए कहा, हलवा उर्दू या हिंदी का शब्द नहीं है, हलवा अरबी शब्द है। 

इसको क्यों नहीं बदल रहे हैं।" ओवैसी ने बीजेपी के नेताओं को घेरते हुए कहा, "यह सब कुछ चेंज करने की बात करते हैं। इस बार आवाम इनको ही चेंज कर देगी।दरअसल बीजेपी के वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय ने खाने से पहचान को जोड़ते हुए एक बयान दिया था, जिसमें उन्होंने कहा था, 'मेरे घर में हाल ही में निर्माण कार्य चल रहा था। इस दौरान मेरे यहां काम कर रहे मजदूर जब खाना खाने बैठे तो मुझे उनके खाना खाने का तरीका कुछ अजीब लगा। वे सभी पोहा खा रहे थे। मैंने उनके सुपरवाइजर से पूछा कि ये लोग बंगलादेशी हैं क्या? इसके बाद वे मजदूर काम पर ही नहीं आए।

ये पहली बार नहीं है जब किसी बीजेपी नेता के पहचान को लेकर दिए बयान पर विवाद हो रहा है। इससे पहले झारखंड की रैली में खुद पीएम मोदी ने कहा था कि हिंसा करने वालों की पहचान कपड़ों से हो जाती है। बता दें कि NRC के खिलाफ हुए हिंसात्मक प्रदर्शन के दौरान पीएम मोदी ने कहा था कि देश में आग कौन लोग लगा रहे हैं, यह उनके कपड़ों से पता चल जाता है। पीएम मोदी ने कहा था, “ये कांग्रेस और उसके साथी हो-हल्ला मचा रहे हैं, तूफान खड़ा कर रहे हैं। उनकी बात चलती नहीं है तो आगजनी फैला रहे हैं। ये जो आग लगा रहे हैं, टीवी पर जो उनके दृश्य आ रहे हैं, ये आग लगाने वाले कौन हैं, उनके कपड़ों से ही पता चल जाता है।”

यह भी पढ़े :- पोहा खाने का तरीका देख कैलाश विजयवर्गीय ने बांग्लादेशियों को पहचाना !


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top