News

कोल्हापुर में बाढ़ के कहर से बिगड़े हालात, देखिये न्यूज़24 की ग्राउंड रिपोर्ट

महाराष्ट्र का कोल्हापुर बाढ़ की चपेट में है। 70 से 80 फीसदी हिस्से में बाढ़ ने तांडव मचाया है। पंच गंगा नदी और कृष्णा नदी के प्रकोप ने गांव के गांव और शहर में भयंकर तबाही मचाई है। शिरोली से को

दीपक दुबे, न्यूज 24 ब्यूरो, मुंबई (11 अगस्त): महाराष्ट्र का कोल्हापुर बाढ़ की चपेट में है। 70 से 80 फीसदी हिस्से में बाढ़ ने तांडव मचाया है। पंच गंगा नदी और कृष्णा नदी के प्रकोप ने गांव के गांव और शहर में भयंकर तबाही मचाई है। शिरोली से कोल्हापुर शहर की तरफ जाने वाला NH 4 हाइवे पुणे बंगलोर अब भी 6 दिन होने के बावजूद बन्द पड़ा हुआ है। इसकी वजह है पानी का तेज बहाव, जिस वजह से शिरोली की तरफ और दूसरी ओर कोल्हापुर की तरफ हजारों लोग दोनों तरफ हाइवे बन्द होने की वजह से 6 दिनों से सड़को पर धर्मशालाओं में कैम्प में रुके हुए है। बस इस इंतजार में कि कब पानी का प्रवाह कम हो और कब ये सभी यहां से निकलें। 

NDRF की टीम के द्वारा महाराष्ट्र के सोलापुर और सांगली के सैकड़ो गांवों में रेस्कयू ऑपरेशन किया जा रहा है। पंचगंगा नदी और कृष्ना नदी का प्रवाह अभी भी बना हुआ है। सैकड़ो गांव बाढ़ की चपेट में है। तेज बारिश और हवा के बीच रेस्कयू ऑपरेशन में भी दिक्कतें आ रही है। लेकिन आर्मी नेवी NDRF लगातार रेस्कयू करने में जुटी हुई है।

NDRF इंस्पेक्टर राजू यादव ने न्यूज24 के संवाददाता दीपक दुबे से बातचीत में बताया अब भी नदियों का बहाव तेज है। मुशिकलें अभी भी बनी हुई है जब तक बारिश नही रुकती। हालात ऐसे ही रहेंगे ऊपर से डैम का पानी खोला हुआ है, जब तक वो बन्द नही होगा तब तक जल्द से जल्द लोगो को निकालने में काफी दिक्कतें आएंगी। बारिश बन्द भी हो जाये तो 5 से 6 दिन लगेगा रेस्कयू में लेकिन अगर बारिश ऐसी ही रही और डैम का पानी खोला जाता रहेगा तो यह कह पाना मुश्किल है कि आखिर कब तक रेस्कयू ऑपरेशन खत्म होगा।

न्यूज 24 लगातार कोल्हापुर सांगली में आई बाढ़ की कवरेज में आर्मी और NDRF की टीम के साथ सहभागी बना हुआ है। जब कुरुन्द वाड़ और नर्सोवा वाड़ी में रेस्कयू टीम NDRF और आर्मी की टीम ने मजबूरन बन्द किया तो न्यूज 24 की टीम दूसरे हिस्से में बाढ़ की कवरेज के लिए निकल पड़ी, हमारी प्राथमिकता थी कि उन बाढ़ ग्रस्त इलाको में फंसे लोगों तक पहुँचना।  शिरोड से कनवाड़ की दूरी 7 से 8 किलो मीटर दूर जहां इसके पास और भी गांव बाढ़ की चपेट में है, जिसमें कनवाड़ गांव, कुटवाड, हाशूर, शामिल है यहां हजारों की संख्या में लोग फंसे है। आसमान में घने काले बादल जो आफत बन कर सांगली और कोल्हापुर में बरसे है जिसने सब कुछ तबाह कर दिया है मौत के मुहं में जाकर रेस्कयू ऑपरेशन का हिस्सा लगातार न्यूज24 बना हुआ है। 


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top