News

जानिए कौन हैं वह महिला जिसके पैर छूकर PM मोदी ने किया नामांकन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को वाराणसी लोकसभा सीट से नामांकन किया। इससे पहले उन्होंने अपने प्रस्तावकों ने मुलाकात और बातचीत की। इस दौरान उन्होंने अपने चार प्रस्तावकों में से एक मह

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (26 अप्रैल): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को वाराणसी लोकसभा सीट से नामांकन किया। इससे पहले उन्होंने अपने प्रस्तावकों ने मुलाकात और बातचीत की। इस दौरान उन्होंने अपने चार प्रस्तावकों में से एक महिला प्रस्तावक के पैर छुए। प्रधानमंत्री के प्रस्तावकों में पाणिनि कन्या महाविद्यालय की प्रिंसिपल अन्नपूर्णा शुक्ला भी हैं। पीएम मोदी ने नामांकन से पहले अन्नपूर्णा के पैर छू कर उनसे आशीर्वाद लिया। बता दें कि 91 साल की अन्नपूर्णा शुक्ला ने काशी महिला महाविद्यालय में 40 साल तक पढ़ाया है।

इस बार पीएम मोदी ने नामांकन के लिए मणिकर्णिका घाट निवासी डोमराजा के बेटे जगदीश चौधरी, हुकुलगंज के रहने वाले संघ व पार्टी के पुराने कार्यकर्ता सुभाष गुप्ता, एमबीबीएस डॉक्टर अन्नपूर्णा शुक्ला, प्रोफेसर रमाशंकर पटेल और एक चौकीदार भी शामिल हैं, जिसका नाम राम शंकर पटेल बताया जा रहा है। 

नामांकन के बाद पीएम मोदी ने कहा, मैं काशीवासियों का आभार प्रकट करता हूं। उन्होंने कहा कि फिर एक बार मैं काशीवासियों का धन्यवाद करता हूं। पांच साल के बाद फिर एक बार काशीवासियों ने मुझे जो आशीर्वाद दिए हैं। उन्होंने कहा कि बाबा की नगरी, मां गंगा का आशीर्वाद के साथ काशीवासी विकास के लिए संकल्पबद्ध हैं। पीएम ने अपील की जहाँ भी मतदान बाकि है वहीँ मतदान जरूर करें। ऐसा न सोचें की मोदी जी जीत गए, मतदान जरूर करें। साथ ही पीएम ने मीडिया का भी धन्यवाद किया। 

शुक्रवार को नामांकन से पहले पीएम मोदी ने कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। पीएम मोदी ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि कल सोशल मीडिया पर लोगों ने मुझे बहुत डांटा कि रोड शो बंद कर दीजिए, अपनी सुरक्षा का ध्यान रखिए. लेकिन मोदी का कोई ध्यान रखता है तो इस देश की करोड़ों माताएं हैं. वे शक्ति बनकर मेरी सुरक्षाकवच बनती हैं।

पीएम ने कहा, देश पहली बार सत्ता के पक्ष में लहर देख रहा है। कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी देश में उत्साह है और सब कह रहे हैं कि फिर एक बार मोदी सरकार।हमारे देश में इतने चुनाव हुए, लेकिन ये चुनाव होने के बाद पॉलिटिकल पंडितों को माथापच्ची करनी पड़ेगी। क्योंकि आजादी के बाद पहली बार प्रो इंकम्बैंसी लहर दिखाई दे रही है। जनता सरकार बनाती है, बनाना जनता के हाथ है, चलाना हमारी जिम्मेदारी है। हमने ईमानदारी से उस जिम्मेदारी को निभाया है।


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top