News

आज से विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेले की शुरुआत

आज से सावन महीने की शुरुआत हो गई है। इस मौके पर आज से देवघर में विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेला भी प्रारंभ हो गया है। लाखों की संख्या में श्रद्धालु बिहार के सुल्तानगंज से गंगाजल लेकर करीब 108 किमी की पैदल यात्रा कर झारखंड स्थित बाबा बैद्यनाथधाम मंदिर पहुंचेंगे

baba-baidyanath

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (17 जुलाई): आज से सावन महीने की शुरुआत हो गई है। इस मौके पर आज से देवघर में विश्व प्रसिद्ध श्रावणी मेला भी प्रारंभ हो गया है। लाखों की संख्या में श्रद्धालु बिहार के सुल्तानगंज से गंगाजल लेकर करीब 108 किमी की पैदल यात्रा कर झारखंड स्थित बाबा बैद्यनाथधाम मंदिर पहुंचेंगे। एक महीने तक पूरा सुल्तानगंज से देवघर तक का इलाका भगवान भोलेनाथ के भक्तों से आबाद रहने वाला है। लाखों की तादाद में श्रद्धालू  देवघर पहुंचकर भोले भंडारी का जलाभिषेक करेंगे। इसके साथ ही बाबानगरी में हर तरफ बोल बम के गुंज सुनाई देंगे। सावन माह में भक्त बाबा बैद्यनाथ पर अरघा के माध्यम से जलार्पण करेंगे तथा एक माह तक बाबा मंदिर में आम भक्तों के लिए स्पर्श पूजा बंद रहेगी।

झारखंड के मुख्‍यमंत्री रघुवर दास ने देवघर के प्रसिद्ध श्रावणी मेले का उद्घाटन मंगलवार को किया। समारोह स्‍थल दुम्मा में पिंकू महाराज की अगुवाई में वैदिक मंत्रोच्चार के बीच अनुष्ठान विधि-विधान से मेले की शुरुआत हुई।इससे पूर्व उन्होंने बाबा वैद्यनाथ धाम में पूजा-अर्चना भी की।  

baba-baidyanath

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि बाबा बैद्यनाथ के बिना सांस्कृतिक राजधानी देवघर की कल्पना बेमानी है। बाबा बैद्यनाथ की कृपा से राज्य का समग्र विकास हो रहा है। सीएम ने कहा कि देशभर से देवनगरी आने वाले श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधा मुहैया कराने के लिए झारखंड सरकार कृतसंकल्प है। किसी को कोई भी शिकायत हो तो वह सोशल मीडिया के जरिए दर्ज कराएं, उस पर शीघ्र  कार्रवाई होगी। हम देवघर को अंतरराष्ट्रीय स्तर का पर्यटन स्थल बनाने की तैयारी कर रहे हैं। मुख्‍यमंत्री ने कहा कि देवघर में प्रसाद योजना के तहत टेंडर की प्रक्रिया पूरी हो गई है। 19 करोड़ की लागत से देवघर में सांस्कृतिक केंद्र बनेगा। देवघर में फूड क्राफ्ट इंस्टीट्यूट 2020 तक काम करने लगेगा। बासुकीनाथ में भी 20 करोड़ की लागत से प्रसाद योजना शुरू होगी। देवघर को अंतरराष्ट्रीय पहचान दिलाना सरकार की प्राथमिकता है।

baba-baidyanath

वहीं, सावन के पहला दिन होने से सभी शिवालयों में भक्तों की खासी भीड़ देखी गई। इधर, बाबा वैद्यनाथ धाम में भगवान भोले नाथ के जलाभिषेक के लिए रात से ही कावरियों की कतार लगी रही।  श्रावणी मेला के दौरान हर दिन हजारों की तादाद में कांवरिये वैद्यनाथ धाम पहुंचकर बाबा को जलाभिषेक करते हैं। जिला प्रशासन ने भीड़ से निपटने के लिए पूरी तैयारी की है। बासुकीनाथ पैदल आने वाले कांवरियों को ध्यान में रखते हुए चलंत स्वास्थ्य सेवा और एम्बुलेंस की व्यवस्था की गई है। श्रद्धालुओं की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए निबटने के लिए भारी संख्या में फोर्स की तैनाती की गई है। सादे लिबास में भी महिला और पुरूष फोर्स की तैनाती की गई है। मेले पर नजर बनाए जाने के लिए 350 सीसीटीवी लगाए गये हैं। इसके अलावे ड्रोन कैमरे से भी नजर रखी जाएगी।

(Images Courtesy: Google)


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top