News

गणतंत्र दिवस पर जम्मू-कश्मीर को तोहफा

जम्मू और कश्मीर के लोगों को गणतंत्र दिवस पर सरकार ने तोहफा देते हुए 20 जिलों में 2जी इंटरनेट सेवा आज से से बहाल कर दी है। इसके अलावा सभी पोस्टपेड और प्री पेड सब्सक्राइबर्स को इंटरनेट की सुविधा मिलेगी। जम्मू और कश्मीर के लोग 301 वेबसाइट खोल सकेंगे, लेकिन सोशल मीडिया एप पर पाबंदी लगी रहेगी।

Jammu And Kashmir

न्यूज 24 ब्यूरो, नई दिल्ली (25 जनवरी): जम्मू और कश्मीर (Jammu And Kashmir) के लोगों को गणतंत्र दिवस (Republic Day) पर  सरकार ने  तोहफा देते हुए 20 जिलों में 2जी इंटरनेट सेवा  (Internet Service) आज से से बहाल कर दी है। इसके अलावा सभी पोस्टपेड और प्री पेड सब्सक्राइबर्स को इंटरनेट की सुविधा मिलेगी। जम्मू और कश्मीर के लोग 301 वेबसाइट खोल सकेंगे, लेकिन सोशल मीडिया एप पर पाबंदी लगी रहेगी। 2जी मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को इससे पहले जम्मू के सभी दस जिलों और कश्मीर के दो जिलों, कुपवाड़ा और बांदीपोरा में बहाल किया गया था।  इसके अलावा जम्मू और कश्मीर प्रशासन के प्रमुख सचिव रोहित कंसल ने कहा कि सभी प्री-पेड कनेक्शनों के लिए वॉयस कॉल और एसएमएस सेवाओं को बहाल कर दिया गया। 5 अगस्त को  धारा 370 निरस्त करने के बाद पूरे जम्मू और कश्मीर में दूरसंचार सेवाएं बंद कर दी गई थी।

जम्मू कश्मीर प्रशासन के गृह विभाग की एक अधिसूचना के मुताबिक मोबाइल फोन पर 2G स्पीड के साथ इंटरनेट सुविधा 25 जनवरी से शुरू हो गई है। यह सुविधा पोस्टपेड और प्रीपेड सिम कार्ड पर उपलब्ध होगी। जिन साइट्स को मंजूरी दी गई है, उनमें सर्च इंजन और बैंकिंग, शिक्षा, समाचार, यात्रा, सुविधाएं और रोजगार से संबंधित हैं। इससे पहले घाटी में प्रीपेड मोबाइल सेवा बहाल करने और जम्मू खंड में 2G मोबाइल डेटा सेवा शुरू करने का फैसला किया गया था। जम्मू के दस जिलों और कश्मीर के दो जिलों (कुपवाड़ा और बांदीपोरा) में पहले से ही 2G इंटरनेट सेवा दी जा रही है। जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म करने और राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों में बांटने के फैसले के साथ पांच अगस्त को घाटी में इंटरनेट और मोबाइल सेवाएं रोक दी गई थीं।

सरकार के सूत्रों के अनुसार, सुरक्षा एजेंसियों से मिली रिपोर्ट और हालातों को सामान्य होता देख प्रशासन की ओर से इंटरनेट सेवाओं की बहाली का फैसला किया गया है। इन सेवाओं को पांच अगस्त से ही स्थगित किया गया था, जिसके बाद से राज्य के तमाम संगठनों ने सरकार का विरोध किया था। ऐहतियात के तौर पर अफवाह फैलने से रोकने के लिए इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगाई गई थी।

यह भी पढ़ें : मोदी के मंत्री ने लाल चौक पर, कहा- ये है नया कश्मीर

(Image Credit: Google)


Get Breaking News First and Latest Updates from India and around the world on News24. Follow News24 and Download our - News24 Android App . Follow News24online.com on Twitter, YouTube, Instagram, Facebook, Telegram , Google समाचार.

Tags :

Top